Delhi High court

सूत्रों के मुताबिक, याचिका में कहा गया है कि तबलीगी जमात के 3300 सदस्यों को 40 दिनों से अलग-अलग क्वारंटाइन केंद्रों में रखा गया है। इनकी कोविड-19 की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी इन्हें जाने नहीं दिया गया। इसमें 14 दिनों के क्वारंटाइन के दिशानिर्देश का पालन करने के लिए अधिकारियों को निर्देश देने को कहा गया है।

कोर्ट ने अपने आदेश में ये भी कहा कि कोरोना संक्रमण से जुड़े हर मामले में 14 दिन का ही क्वारंटाइन होने का आदेश नहीं दिया जा सकता, लेकिन प्रशासन को यह भी देखना चाहिए कि किसी भी नागरिक को मनमाने ढंग से होम क्वारंटाइन में रखना भी उचित नहीं नहीं है। इसके ग़लत परिणाम भी हो सकते हैं।

अदालत रेयर मेटाबॉलिक लाइफ साइंसेज द्वारा चीन से आयात की गई 7.24 लाख कोविड-19 रैपिड टेस्ट किट और अन्य कोविड-19 संबंधित सामग्री को जारी करने की मांग वाली एक याचिका पर सुनवाई कर रही थी।

आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। कड़कड़डूमा कोर्ट ने ताहिर हुसैन को सात दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

इसे स्वीकार करते हुए न्यायाधीश ने कहा कि उन्होंने जवाब दिया था कि यदि उन्हें दिल्ली हाईकोर्ट से स्थानांतरित किया जाता है तो उन्हें पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट जाने में कोई आपत्ति नहीं है। 26 फरवरी को कानून एवं न्याय मंत्रालय ने दिल्ली हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति मुरलीधर को पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में तबादला किए जाने को अधिसूचित किया।

याचिकाकर्ता हिंदूसेना ने दिल्ली पुलिस को एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी व पार्टी विधायक वारिस पठान और अकबरुद्दीन ओवैसी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किए जाने के निर्देश देने का निवेदन किया। याचिका में कहा गया कि इनके भाषणों से दिल्ली में सांप्रदायिक माहौल बढ़ा।

दिल्ली हाईकोर्ट ने सोनिया, प्रियंका, राहुल, मनीष सिसोदिया और अन्य के विवादित बयान पर नोटिस जारी किया है। इन सभी के खिलाफ दायर याचिका में विवादित बयान देने और दिल्ली का माहौल बिगाड़ने की बात कही गई थी।

अभिनेत्री स्वरा भास्कर की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। स्वरा भास्कर के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है।

दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस एस मुरलीधर के तबादले पर कांग्रेस की ओर से लगातार केंद्र सरकार पर सवाल उठाए जा रहे हैं जिस पर केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्विटर के जरिए जवाब दिया है।

दिल्ली हिंसा पर सुनवाई करने वाले दिल्ली हाईकोर्ट के जज जस्टिस मुरलीधर का तबादला पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट किया गया है। केन्द्र सरकार ने तबादले की अधिसूचना जारी कर दी है। इसे लेकर राजनीति गरमा गई है।