Delhi Violence

Delhi Violence: दिल्ली पुलिस(Delhi Police) ने इस मामले में 24 ऐसे आरोपियों की तस्वीरें जारी की हैं, जो इस हिंसा में शामिल रहे थे। गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर परेड(Tractor Parade) के दौरान हिंसा में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कार्रवाई तेज कर दी है।

Red Fort Violence: दिल्ली पुलिस(Delhi Police) ने भी अपनी तरफ से ऐसे ही हथियार बंद लोगों की कुछ तस्वीरें जारी की है। वीडियो में उपद्रवी तत्व भीड़ को लगातार उकसा रहे हैं और कह रहे हैं कि पुलिस के हथियार छीनकर उन्हें ही मारों।

Red Fort case: दिल्ली पुलिस ने अब तक कुल 124 गिरफ्तारियां की हैं और 44 एफआईआर दर्ज की गई है। इस बीच, दिल्ली पुलिस ने विभिन्न सोशल मीडिया अकाउंट के खिलाफ चार मामले भी दर्ज किए हैं और किसानों के विरोध के बारे में आपत्तिजनक और गैरकानूनी पोस्ट हटाने के लिए कहा है।

Delhi Police Action on Farmers: रेड्डी ने अपने जवाब में कहा कि, आक्रामक तरीके से प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली(Delhi) में दंगा करने की कोशिश की। सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया और सरकारी कर्मचारियों द्वारा उनका काम करने में बाधा पहुंचाई।

Legal Aid for Farmer: दिल्ली पुलिस(Delhi Police) के पीआरओ ईश सिंघल ने कहा, "हमने किसान आंदोलन के संबंध में अब तक कुल 44 मामले दर्ज किए हैं और कुल 122 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए लोगों के अलावा, पुलिस स्टेशनों में किसी को भी हिरासत में नहीं रखा गया है।

Delhi Special Lathi: इस फोटो को लोग धड़ल्ले से सोशल मीडिया पर वायरल भी कर रहे हैं। इतना ही नहीं, कुछ लोग इसे तलवार तो कुछ लोग इसे लाठी बता रहे हैं। उनका कहना है कि इसके जरिए दिल्ली पुलिस(Delhi Police) उपद्रवियों से निपटने में और अधिक असरदार होगी।

Farmers Tractor Rally: शनिवार तक पुलिस को दिल्ली हिंसा(Delhi Violence) मामले में अबतक आम जनता से 1,700 वीडियो क्लिप और सीसीटीवी फुटेज भी प्राप्त हुए, जिनसे हिंसा से संबंधित जांच में सहायता मिल सकती है।

PM Modi: बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ गाजीपुर बॉर्डर(Gazipur Border) पर आंदोलन कर रहे किसानों की भारी तादाद देखते हुए एहतियात के तौर पर प्रशासन ने शनिवार रात को 12 लेयर की बैरिकेडिंग लगा दी है।

Tractor Rally: दरअसल दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को जांच में इस हिंसा और उपद्रव में खालिस्तानी हाथ होने के सबूत प्राप्त हुए हैं। इतना ही नहीं जांच में यह पता चला है कि खालिस्तानी ट्विटर हैंडल से दिल्ली में दंगे की बहुत बड़ी साजिश रची गई।

Tractor Rally: गौरतलब है कि दिल्ली में 26 जनवरी को हुए बवाल के दौरान एक किसान की मौत हो गई थी। जिसको लेकर सोशल मीडिया के जरिए भ्रामक फैलाने की कोशिश की गई थी।