Delhi Violence

दिल्ली हिंसा की जांच में स्पेशल सेल ने बड़ा खुलासा किया है। जांच में विदेशी फंडिंग के सुराग मिले हैं। जांच के दौरान यह भी पता चला कि दिल्ली दंगों के एक आरोपी ने मलेशिया में जाकर जाकिर नाईक से मुलाकात भी की।

सफूरा जरगर गर्भवती हैं और अदालत ने उन्हें मानवीय आधार पर जमानत दी है। इसको आधार बनाकर केंद्र सरकार ने भी उसकी जमानत का समर्थन किया।

सूत्र ने कहा कि वित्तीय जांच एजेंसी की टीमें उत्तर पूर्वी दिल्ली में चार स्थानों और नोएडा में दो स्थानों पर तलाशी ले रही हैं। ईडी की कार्रवाई हुसैन के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज करने के लगभग तीन सप्ताह बाद हुई है, जो वर्तमान में न्यायिक हिरासत में है।

दिल्ली हाईकोर्ट ने इस साल फरवरी में राष्ट्रीय राजधानी के उत्तर-पूर्वी जिले में हुई हिंसा और झड़प के मामलों में मुकदमों की सुनवाई के लिए चार विशेष अदालतों को गठित किया है।

बेल की याचिका दायर करते हुए सफूरा जरगर के वकील ने उसके गर्भवती होने की बात का उल्लेख करते हुए कहा था कि सफूरा पॉलीसिस्टिक ओवेरी सिंड्रोम से पीड़ित है। इससे गर्भपात की आशंका बढ़ जाती है।

दिल्ली पुलिस ने पिंजरा तोड़ संगठन से जुड़ी दो लड़कियां नताशा और देवांगना को गिरफ्तार किया है। दरअसल, जाफराबाद मेट्रो स्टेशन पर सीएए के खिलाफ महिलाओं की अचानक भीड़ जुट गई थी, जिसके बाद हिंसा हुई थी।

सीएम केजरीवाल ने ट्वीट किया, "दिल्ली हिंसा में आईबी अफसर अंकित शर्मा जी की बहुत ही दर्दनाक तरीके से हत्या की गई थी। उनके परिवार के लिए हमने एक करोड़ रुपये की सम्मान राशि का एलान किया था। आज उस निर्णय को कैबिनेट ने मंजूरी दी है। कोरोना के चलते इसमें देर हो गई। उम्मीद है इसी हफ्ते उनके परिवार को राशि मिल जाएगी।"

दिल्ली हिंसा की जांच कर रही क्राइम ब्रांच को अपनी जांच में एक और सफलता मिली है। जिसमें पता चला है कि जेएनयू के पूर्व छात्र शरजील इमाम ने जानबूझ कर दिल्ली समेत देश भर में दंगे कराने के मकसद से भड़काऊ भाषण दिए थे।

दिल्ली हिंसा की साजिश में जामिया एल्युमिनाई एसोसिएशन की प्रेसिडेंट शिफा-उर्रहमान को गिरफ्तार किया गया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सोमवार को शिफा-उर्रहमान को गिरफ्तार किया।

दिल्ली पुलिस की विशेष इकाई चांदबाग इलाके के खतरनाक बदमाश मूसा और सलमान के बीच मोबाइल पर हो रही बातचीत को दंगों के दौरान गुपचुप तरीके से सुन रही थी। जैसे ही सलमान ने मूसा को बताया कि उसने भीड़ के बीच में घुसकर एक आदमी को चाकूओं से गोद डाला है, वैसे ही दिल्ली पुलिस की विशेष इकाई और स्पेशल ब्रांच (खुफिया विंग) सतर्क हो गई।