devendra fadnavis

Maharashtra: महाराष्ट्र सरकार (Government of Maharashtra) ने पूर्व मुख्यमंत्री और अभी विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेन्द्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) और उनकी पत्नी के सुरक्षा कवर को घटाने का फैसला किया है। वहीं यूपी के पूर्व राज्यपाल राम नाइक, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे की भी सुरक्षा घटाने का निर्देश जारी किया गया है।

Maharashtra: महाराष्ट्र (Maharashtra) में एक बार फिर सियासी हलचल तेज होती दिख रही है। इस बार केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे पाटिल (Raosaheb Danve) ने महाराष्ट्र की राजनीति को लेकर बड़ी भविष्यवाणी कर दी है। दरअसल रावसाहेब दानवे पाटिल ने दावा करते हुए कहा है कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सरकार जल्द बन सकती है।

Devendra Fadnavis tests positive for Coronavirus: महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) कोरोनावायरस (Coronavirus) की चपेट में आ गए है।

Maharashtra Politics: एनसीपी (NCP) सुप्रीमो शरद पवार (Sharad Pawar) ने इस मुलाकात पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस मुलाकात का सूबे की सियासत पर कोई भी असर पड़ने की संभावना नहीं है। उन्होंने कहा कि अखबारों के संपादकों या पत्रकारों को इंटरव्यू लेने पड़ते हैं और संजय राउत (Sanjay Raut) इसी सिलसिले में देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadanvis) से मिलने गए थे।

Maharashtra Government : शनिवार को महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस( Devendra fadnavis) से शिवसेना सांसद संजय राउत(Sanjay Raut) की मुलाकात के राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं। हालांकि शिवसेना इससे साफ इनकार कर रही है।

मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा, 'महाराष्ट्र में हर दिन 38 हजार कोरोना टेस्ट की क्षमता है लेकिन सिर्फ 14 हजार टेस्ट हो रहे हैं। मुंबई में ही 12 हजार टेस्ट प्रतिदिन की क्षमता है लेकिन चार हजार टेस्ट प्रतिदिन हो रहे हैं। सरकार कम टेस्ट करके कोरोना के केस कम रखना चाहती है।'

पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को टैग करते हुए सवाल किया कि क्या आप इससे सहमत हैं? अगर सहमत नहीं हैं तो क्या आप कड़ी कार्रवाई करेंगे?

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने ट्विटर पर लिखा- "माननीय मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जी के साथ चर्चा के बाद श्री अमिताभ गुप्ता, प्रधान सचिव (विशेष) को जांच होने तक तत्काल प्रभाव से अनिवार्य अवकाश पर भेज दिया गया है। जिससे उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू की जा सके।"

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि इस मामले की जांच की जाएगी। उन्होंने ट्वीट किया, 'वाधवान परिवार के 23 सदस्य महाबलेश्वर तक कैसे पहुंचे इसकी जांच होगी।'

पिछले साल महाराष्ट्र में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा और शिवसेना वाले गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिला था, लेकिन इसके बावजूद भाजपा सरकार नहीं बना सकी थी।