Disease

ये तो सभी जानते है कि भगवान शिव (Lord Shiva) को बेलपत्र (Belpatra) चढ़ाया जाता है। बेल पत्र हमेशा तीन पत्तियों के समूह में होती है, इसे ब्रह्मा, विष्णु और महेश का स्वरूप माना जाता है। लेकिन लोग ये बहुत कम जानते हैं कि बेलपत्र हेल्थ के लिए भी काफी फायदेमंद हैं।

चिकित्सा विज्ञान ने विस्मयकारी उन्नति की है। हृदय, गुर्दा जैसे संवेदनशील अंगों की शल्यक्रिया आश्चर्यजनक है। सामान्य बीमारियों के साथ ही गंभीर बीमारियों के उपचार भी आसान हो गए हैं। लेकिन अभी रोग रहित मानवता का स्वप्न दूर है।

आयुर्वेद में कई उपयोगी दवाएं हैं। आयुर्वेद में उन बीमारियों का उपचार है जिनका एलोपैथी में नहीं है। लेकिन उन्हें आधुनिक चिकित्सा की कसौटी पर परखे जाने और प्रमाणित किये जाने की जरूरत है।

"काम पर किसी को तकलीफ नहीं होनी चाहिए - चाहे वह मानसिक रूप से हो या शारीरिक रूप से हो।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने साल 2035 तक दुनिया से तपेदिक को खत्म करने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

वजन कम करने में अखरोट मदद करता है। एक औंस यानी करीब 28 ग्राम अखरोट में 2.5 ग्राम ओमेगा थ्री फैटी एसिड, 4 ग्राम प्रोटीन और 2 ग्राम फाइबर होता है जिससे लंबे समय तक तृप्ति की भावना बनी रहती है। वजन कम करने के लिए जरूरी है कि आपका पेट भरा रहे।

ध्यान रहे यह कड़ा हनुमानजी का आशीर्वाद स्वरूप है अत: अपनी पवित्रता पूरी तरह बनाए रखें। कोई भी अपवित्र कार्य कड़ा पहनकर न करें। अन्यथा कड़ा प्रभावहीन हो जाएगा।

छाती की पीड़ा होने पर अनार की कलम और अनार के ही रस से हस्ताक्षर करें और फिर उसे अनार के रस में डुबोकर कहीं कच्चे स्थान में गड्ढा खोदकर दबा दें। इससे छाती में जमे बलगम, सांस की तकलीफ अथवा किसी अन्य कारणवश हुई छाती की तकलीफ से मुक्ति मिलेगी।

गर्भावस्था के दौरान तनाव महसूस करना काफी आम है, लेकिन बहुत अधिक तनाव से गंभीर समस्याएं हो सकती हैं, जैसे कि नींद न आना, लंबे समय तक सिरदर्द और भूख कम लगना आदि। अगर लंबे समय तक उच्च स्तर का तनाव जारी रहता है तो हृदय रोग और उच्च रक्तचाप हो सकता है। 

पेट में दर्द होने की शिकायत के चलते 75 वर्षीय अभिनेत्री को मंगलवार को अस्पताल में दाखिल कराया गया था।काजोल इस दौरान अस्पताल में अपनी मां से मिलने पहुंचीं जिसकी तस्वीरें सामने आईं हैं। इस घटना के महज दो दिन पहले ही काजोल के ससुर और एक्शन डायरेक्टर वीरू देवगन का निधन हो गया था।