Durga Puja

इनके हाथों में खड्ग और कांटा है और गधा इनका वाहन है। परन्तु ये भक्तों का हमेशा कल्याण करती हैं। अतः इन्हें शुभंकरी भी कहते हैं। इस बार मां के सातवें स्वरुप की पूजा 05 अक्टूबर को की जा रही

भुवनेश्वरी संहिता के अनुसार जिस प्रकार से ”वेद”अनादि है, उसी प्रकार ”सप्तशती” भी अनादि है। भगवान श्री वेद व्यास जी के द्वारा रचित महापुराणों में ‘’मार्कण्डेय पुराण‘’के जरिए मानव जाती के कल्याण के लिए इसकी रचना की गई है।

भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु को यहां दुर्गा पूजा पंडाल कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था। वह अपने परिवार और राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद के साथ कार्यक्रम में पहुंची थी।

9 दिन की नवरात्रि में इस वर्ष दो सोमवार आ रहे हैं। यह अत्यंत शुभ संयोग है क्योंकि सोमवार को दुर्गा पूजा का हजार, लाख गुना नहीं बल्कि करोड़ गुना फल मिलता है। चूंकि सोमवार का स्वामी चन्द्रमा है।

धीमे आंच पर इन्हें 8-10 मिनट तक पकाए और इसके बाद इन्हें पलट दें और फिर हल्के सुनहरे होने तक पकाएं। दोनों साइड से अच्छे से पक जाने के बाद इन्हें एक प्लेट पर निकाल लें। फलाहारी हरी चटनी के साथ इन्हें गर्मागर्म परोसें।

इस वर्ष, नवरात्रि 29 सितंबर से शुरू हो रही है. यह नौ दिनों का त्योहार है, जो हिंदू धर्म और संस्कृति में बहुत महत्व रखता है. यह सबसे प्राचीन त्योहारों में से एक है क्योंकि यह भगवान राम की जीत का जश्न मनाता है

पश्चिम बंगाल में दुर्गा पूजा समितियों के ज़रिए काले धन को सफेद करने के एक बड़े रैकेट का पर्दाफाश हुआ है। आयकर विभाग की जांच में चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं।