Export

जनवरी से अगस्त 2019 के दौरान भारत से पाकिस्तान को चाय का निर्यात सिर्फ 48 लाख डॉलर (करीब 34 करोड़ रुपये) मूल्य के 31.4 लाख किलोग्राम का हुआ है।

ट्रेड प्रमोशन काउंसिल ऑफ इंडिया के चेयरमैन मोहित सिंगला ने कहा, "उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुएं और उपभोक्ता गैर टिकाऊ वस्तुएं जैसे इलेक्ट्रॉनिक गुड्स, फार्मा, मरीन और टेक्सटाइल्स में जुलाई 2019 के महीने में निर्यात में 2.25 फीसदी की वृद्धि हुई है।"

पाकिस्तान से भारत का आयात इस वर्ष मार्च में घट कर 28.4 करोड़ डालर के बराबर रहा जबकि मार्च 2018 में यह आंकड़ा 3.5 करोड़ डालर था।

मई में तेल का आयात कुल 12.44 अरब डॉलर का रहा, जोकि डॉलर के संदर्भ में 2018 के मई की तुलना में 8.23 फीसदी अधिक है। पिछले साल मई में कुल 11.50 अरब डॉलर के तेल का आयात किया गया था।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कॉटन के भाव में इस साल आई भारी गिरावट का मुख्य कारण अमेरिका और चीन के बीच जारी व्यापार जंग है। अमेरिका दुनिया का सबसे बड़ा कॉटन निर्यातक है जबकि चीन कॉटन का एक बड़ा आयात देश है। दुनिया में सबसे ज्यादा कॉटन की खपत चीन में होती है।

मंत्रालय के अनुसार, वित्त वर्ष 2018-19 में कुल आयात 507.44 अरब डॉलर रहा जबकि उसके पिछले वित्त वर्ष 2017-18 में आयात 465.58 अरब डॉलर था।

कोलकाता। देश के चाय उत्पादन में जुलाई में करीब 6.7 फीसदी की अनुमानित गिरावट दर्ज की गई, जो 15.13 करोड़...