Finance minister

इस कड़ी में चीन को सबक सिखाने के लिए वित्त मंत्रालय ने शुक्रवार को चीन समेत भारत की सीमा से लगे किसी भी देश से पेंशन कोष में विदेशी निवेश पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव किया है।

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के दौरान उन्होंने मजदूरों के घर वापसी के मुद्दे पर विपक्ष को घेरा। उन्होंने कहा कि प्रवासी मुद्दे पर विपक्ष को राजनीति करने की जगह मिलकर काम करना चाहिए। मैं सोनिया गांधी से हाथ जोड़कर अपील करती हूं कि इस मुद्दे पर राजनीति न करें।

स्कूली बच्चों की ऑनलाइन शिक्षा के लिए सरकार ने 12 चैनल शुरू करने का फैसला किया है। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने रविवार को बच्चों की शिक्षा के लिए 'वन क्लास वन चैनल' योजना के तहत 12 नये चैनल शुरू करने का ऐलान किया।

निर्मला सीतारमण ने कहा कि पिछले चार दिनों में आत्मनिर्भर भारत के लिए लैंड, लेबर, लिक्विडिटी और लॉ पर आज का फोकस किया गया है।

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की चौथी किस्त जारी करते हुए कोयला क्षेत्र के लिए 50 हजार करोड़ रुपये के फंड का एलान किया। इसके साथ ही उन्होंने एलान किया कि कोयला सेक्टर में सरकार का एकाधिकार खत्म होगा और सही कीमत पर ज्यादा कोयला उपलब्ध होगा। सीतारमण ने कहा कि इसके लिए 50 ब्लॉक में काम शुरू होगा और सरकार खुली नीलामी कराएगी।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि कृषि के बुनियादी ढांचे के लिए सरकार एक लाख करोड़ देगी। ये एग्रीग्रेटर्स, एफपीओ, प्राइमरी एग्रीकल्चर सोसाइटी आदि के लिए फार्म गेट इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास के लिए दिया जाएगा जैसे कोल्ड स्टोरेज।

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर रहे थे। इस बैठक में कई मुद्दों पर खुलकर चर्चा हुई तो वहीं प्रधानमंत्री के साथ बैठक में चार राज्य के सीएम ने लॉकडाउन बढ़ाने की भी मांग की।

जब अपने जवाब के बीच में अनुराग ठाकुर ने कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी का नाम लिए बिना उनकी एक पेटिंग का जिक्र कर दिया। जिसके बाद से विपक्ष की तरफ से शोर शुरू हो गया।

जानकारी के मुताबिक वर्तमान प्रशासक प्रशांत कुमार को नवगठित बोर्ड का मैनेजिंग डायरेक्टर और सीइओ नियुक्त किया गया है। सरकार की ओर से जारी गजट अधिसूचना में कहा गया है कि यस बैंक रिकंस्ट्रक्शन स्कीम 2020 इस महीने की 13 तारीख से प्रभावी होगी।

केंद्र सरकार ने आज यस बैंक के ग्राहकों के लिए बड़ी राहत देते हुए अहम फैसला लिया है। शुक्रवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में यह निर्णय लिया गया है।