Flood

Patna Flood: बाढ़ में फंसे लोगों को इस तरह पहुंचाई जा रही है राहत सामग्री

इस भीषण बारिश ने जान माल का भी नुकसान किया है। यूपी में अब तक करीब 80 जाने जा चुकी हैं। जबकि बिहार में 29 लोग अपनी जान गवां चुके हैं। पिछले 60 सालों में मानसून इतना देर से कभी नहीं लौटा है।

लेकिन पटना में इस बाढ़ के पानी के बीच एक मॉडल ने मुस्कुराते हुए फोटोशूट कराया है। पटना के युवा फोटोग्राफर सौरव अनुराज का कहना है कि उन्होंने मौजूदा स्थिति को दर्शाने के लिए ये फोटोशूट किया है।

ऐसे हालात को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को आपदा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की और जिले के जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बारिश का हाल जाना।

मध्य सूडान के गीजीरा प्रांत के अधिकांश इलाकों में भारी बारिश के कारण हुए हादसों में कुल सात लोग मारे गए और दो अन्य घायल हो गए। आधिकारिक समाचार एजेंसी एसयूएनए ने यह जानकारी दी।

बारिश और बाढ़ से बेहाल कई राज्य, देखें इन राज्यों के बिगड़े हालात

वहीं दूसरी ओर इस मामले पर चैनल ने लिखा कि- 'पाकिस्तानी रिपोर्टर ने बाढ़ के पानी में, अपनी जिंदगी खतरे में डालकर ड्यूटी पूरी की है।

असम के काजीरंगा नेशनल पार्क और एनएच -37 क्षेत्र में बाढ़ सा दिखा नजारा

मॉनसून की भारी बारिश के कारण कई इलाकों में बाढ़, भूस्खलन का खतरा पैदा हो गया है और सभी मुख्य राजमार्गों पर यातायात प्रभावित हुआ है।

उत्तर प्रदेश के 14 जिलों में मूसलाधार बारिश की वजह से पिछले तीन दिनों के अंदर 15 लोगों की मौत हो गई है। आधिकारिक डाटा के अनुसार 9 जुलाई से 12 जुलाई तक राज्य में अबतक 15 लोगों और 23 जानवरों की मौत हो गई है।