G20

इस मुलाकात को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, 'हम लोग काफी अच्छे दोस्त हो गए हैं, हमारे देशों में इससे पहले कभी इतनी नजदीकी नहीं हुई। मैं ये बात पूरे भरोसे से कह सकता हूं।

प्रदर्शनकारियों ने कहा, यह प्रमाणित करता है कि चीन हांगकांग के मुद्दे को नजरंदाज करना चाहता है, और इसी लिए हांगकांग के लोगों को गंभीरता से अन्य देशों से मिलकर उस मुद्दे को उठाने के लिए कहना चाहिए जिसे (चीन के राष्ट्रपति) शी जिनपिंग नजरंदाज करना चाहते हैं।

राष्ट्रपति शी जिनपिंग के 28-29 जून को ओसाका में शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए जाने से पहले चीन के सहायक विदेश मंत्री झांग जुन ने सोमवार को कहा कि जिनपिंग, भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ बैठक से इतर मुलाकात करेंगे।

एफे न्यूज के मुताबिक, ट्रंप ने सीएनबीसी से एक साक्षात्कार में कहा कि अगर शी जी20 सम्मेलन में शामिल नहीं होंगे तो वह चीन पर तत्काल नए कर लगा देंगे।

नई दिल्ली। जी-20 सम्मलेन में भारत को समूह के अन्य देशों की ओर से बड़ा तोहफा मिला है। यह गिफ्ट...