Gokulpuri

दिल्ली दंगों के जख्म गहराते जा रहे हैं। दिल्ली पुलिस को नाले से मिलनी वाली लाशों का सिलसिला लगातार बढ़ता जा रहा है

दिल्ली पुलिस ने दिल्ली में हुए दंगों को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। दिल्ली पुलिस के मुताबिक 22 फरवरी को जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे लोग इकट्ठा हुए थे। उसके पास ये जानकारी थी ये लोग हिंसा कर सकते हैं।

उत्तरी-पूर्वी दिल्ली में सीएए के विरोधी और समर्थकों के बीच हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। इसी वजह से गुरु तेग बहादुर अस्पताल पहुंचाए जा रहे घायलों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। घायलों का इलाज कर रहे एक डॉक्टर ने बताया कि 15 से ज्यादा लोग गोली लगने से घायल हुए हैं।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा जारी है। देश की राजधानी में बिगड़े हालात को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई। इस मीटिंग में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पुलिस अधिकारी शामिल हुए।

दिल्ली में दंगा करने वाले दंगाइयों की पहचान मुकम्मल हो चुकी है। दिल्ली पुलिस बड़ा एक्शन लेने की तैयारी में है। सूत्रों के मुताबिक सिर्फ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा के समाप्त होने का इंतजार किया जा रहा है।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद में शुरू हुए दंगों को तुरंत काबू करने के लिए उच्चस्तरीय मंथन शुरू हो गया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने तमाम आला हुक्मरानों को इस आपात बैठक में तलब किया है।