Gold

मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर कच्चे तेल का अप्रैल अनुबंध बुधवार को पिछले सत्र से 61 रुपये यानी 3.63 फीसदी लुढ़ककर 1,619 रुपये प्रति बैरल पर बंद हुआ जबकि दिनभर के कारोबार दौरान कच्चे तेल का भाव 1,550 रुपये प्रति बैरल तक गिरा।

 कोरोना के कहर से उत्पन्न संकट के दौर में पीली धातु में कुछ ज्यादा निखार आने की संभावना दिख रही है। बाजार के जानकारों की माने तो निकट भविष्य में भारत में सोना 50,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर सकता है।

एमसीएक्स एक्सचेंज पर बुधवार दोपहर 12 बजकर 19 मिनट पर तीन अप्रैल 2020 के सोने का वायदा भाव 1.55 फीसद या 622 रुपये की गिरावट के साथ 39,622 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेंड करता दिखाई दिया इसके अलावा पांच जून 2020 के सोने का वायदा भाव एमसीएक्स पर इस समय 1.45 फीसद या 585 रुपये की गिरावट के साथ 39,865 रुपये प्रति 10 ग्राम पर लगातार ट्रेंड कर रहा था।

भारतीय शेयर बाजार में गुरुवार को आरंभिक सत्र के दौरान कमजोर कारोबारी रुझान के बीच सेंसेक्स 100 अंक फिसला और निफ्टी में भी लाल निशान के साथ कारोबार चल रहा था।

अमेरिका और ईरान के बीच फिर फौजी तनाव गहराने से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में बुलियन और क्रूड के दाम में आए उछाल के बाद भारतीय वायदा बाजार एमसीएक्स पर भी बुधवार को सोना-चांदी और कच्चे तेल के वायदा सौदों में जोरदार तेजी आई।

अमेरिका और ईरान के बीच टकराव से खाड़ी क्षेत्र में गहराते फौजी तनाव के कारण महंगी धातुओं के दाम में जोरदार उछाल आया है। भारत में सोने का भाव सोमवार को 41,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर गया है और अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भी सोना करीब साढ़े छह साल के बाद के ऊंचे स्तर पर चला गया है। 

देश में बीते महीने महंगी धातुओं के दाम में गिरावट पर लिवाली बढ़ने से सोने का आयात बढ़कर पिछले पांच महीने के सबसे ऊंचे स्तर पर चला गया। भारत ने नवंबर में 78 टन सोना आयात किया जोकि मई के बाद का सबसे ऊंचा स्तर है।

मंत्रालय ने बताया कि भारतीय मानक ब्यूरो अधिनियम 2016 के तहत केंद्र सरकार ने सोने आभूषण व कलाकृति की हॉलमार्किंग करने के लिए धारा 14 और 16 के तहत प्रावधानों को सक्षम बनाया है, जिससे सोने के समान बेचने वाले सभी आभूषण विक्रेताओं को बीआईएस के पास पंजीकरण करवाना अनिवार्य होगा और सिर्फ हॉलमार्क वाले सोने के आभूषण व कलाकृतियां ही बेची जाएंगी।

विश्लेषक बताते हैं कि केंद्रीय बैंक ने रिपोर्ट पर अमल करने के बाद सक्रियतापूर्वक ट्रेडिंग शुरू कर दी है। हालिया आंकड़ों के अनुसार, अगस्त के आखिर में आरबीआई के पास सोने के कुल परिमाण 198.7 लाख ट्राय औंस था।

यशस्विनी देसवाल ने वर्ल्ड नंबर-1 यूक्रेन की ओलेना कोस्तेविच को पछाड़ते हुए भारत को नौवां ओलंपिक कोटा दिलाया। इस विश्व कप में भारत का यह पांचवा पदक है।