Hair Fall

भारत के कई राज्‍यों में मानसून ने दस्‍तक दे दी है। बारिश का मौसम शुरू होते ही बालों से जुड़ी समस्या शुरू हो जाती है। मौसम में नमी होने के कारण बाल टूटने-झड़ने शुरू हो जाते हैं। इसलिए इस मौसम में अपने बालों की अच्‍छी तरह से केयर करनी चाहिए।

बालों के गिरने या कमजोर होने का मुख्य कारक 1800 कैलोरी से नीचे की डायट है। इसके अलावा डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, टायफाइड जैसी बीमारियां भी बालों के स्वास्थ्य को बहुत ज्यादा प्रभावित करती हैं। इसके साथ ही आयरन, विटामिन बी12, विटामिन डी और फेरिटिन का कम होना भी बालों के गिरने के लिए जिम्मेदार है।

अमेरिका के विस्कॉन्सिन-मैडिसन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर जूडोंग वांग ने कहा, "मेरा मानना है कि यह बाल को फिर से उगाने के लिए बहुत ही व्यावहारिक समाधान है।"

नीम की पत्तियों और आंवले के चूर्ण को पानी में डालकर उबाल लें और सप्ताह में कम से कम एक बार इस पानी से सिर को धोएं। ऐसा करने से कुछ ही समय में बाल झड़ना बंद हो जाते हैं।