Hathras news

Hathras Case: इस मामले को लेकर विपक्ष द्वारा योगी सरकार(Yogi Government) पर लगातार किये जा रहे हमले के बाद से CM योगी(CM Yogi) ने ताबड़तोड़ कार्रवाई की है।

Hathras Case : दिल्ली(Delhi) में हुए निर्भया कांड(Nirabhaya Case) के बाद भाजपा के प्रदर्शन को याद दिलाते हुए सामना में लिखा गया कि, वर्ष 2012 में दिल्ली में निर्भया कांड हुआ तब संपूर्ण भाजपा सड़क पर उतर गई, संसद बंद करवा दी थी।

Hathras Case: इस घटना में 6 साल की बच्ची की मौत हो चुकी है। जिसको लेकर परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर जाम लगाया। बता दें कि मौत से पहले बच्ची का दिल्ली(Delhi) के एक अस्पताल(Hospital) में इलाज चल रहा था।

Hathras Case : बता दें कि यूपी(Uttar Pradesh) में जातीय दंगे कराने को लेकर हाथरस(Hathras) की घटना को सहारा बनाने की साजिश का खुलासा हुआ है। ऐसी साजिशों पर अब योगी सरकार सख्त नजर आ रही है।

Hathras Case: हाथरस मामले को भुनाने की कोशिश में लगे लोगों को उस वक्त झटका लगा जब दिल्ली से हाथरस(Hathras) जा रहे 4 लोगों को मथुरा पुलिस(Mathura Police) ने गिरफ्तार कर लिया।

Hathras Case: पीड़िता और मुख्य आरोपी संदीप(Sandeep) के बीच पुरानी जान-पहचान थी और दोनों के बीच शायद बातचीत भी होती थी। एक कॉल डिटेल रिकॉर्ड (CDR) के अनुसार आरोपी संदीप और पीड़िता के परिवार के एक नंबर के बीच बातचीत होती थी।

Hathras incident: दरअसल हुआ ये कि दिल्ली (Delhi) की कोंडली विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के विधायक कुलदीप कुमार (Kuldeep Kumar) ने जो किया वह कोई सोच भी नहीं सकता है। उनके दो ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। जिसमें उन्होंने खुद बताया है कि वो कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। इसके बाद उनका दूसरा ट्वीट है जिसमें वो हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिजनों से मिलने पहुंचे हैं।

Hathras Case:प्रशांत कुमार (Prashant Kumar) ने आगे बताया कि हाथरस घटना (Hathras incident) को लेकर सोशल मीडिया (Social Media) पर भ्रामक अफवाह फैलाई जा रही है ऐसे में ऐसा करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इस मामले में कुल 6 मुकदमे दर्ज किए गए हैं।

Hathras Case: जांच एजेंसियों की रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश में जातीय और सांप्रदायिक दंगे कराने की साजिश थी लेकिन योगी सरकार(Yogi Government) की सतर्कता के चलते विरोध अपनी चाल में कामयाब नहीं हो सके।

Hathras : हाथरस कांड (Hathras Scandal) को लेकर एक तरफ जहां सियासत जारी है। वहीं, दूसरी तरफ लोगों में काफी गुस्सा है। लोगों की मांग है कि पीड़िता को न्याय मिले और आरोपियों को सख्त सजा। इन सब के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी तोड़ी है।