Indian Air force

भारतीय वायुसेना ने एक अमेरिकी पत्रिका में प्रकाशित उस रिपोर्ट को खारिज कर दिया जिसमें कहा गया है कि पाकिस्तान का कोई भी एफ-16 विमान लापता नहीं है। वायुसेना ने कहा कि उसने पाकिस्तानी एफ-16 विमान को मार गिराया था जिसके सबूत उसके पास हैं।

एयरफोर्स के अधिकारी हादसे के कारणों का पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं। अभी तक इस बात की जानकारी हासिल नहीं हो सकी है कि यह हादसा कैसे हुआ है।

बालाकोट एयरस्ट्राइक के 32 दिन के बाद पाकिस्तान सेना पत्रकारों के एक ग्रुप को घटनास्थल पर लेकर गई, हालांकि सच जानने गए पत्रकारों को यहां भी निराशा हाथ लगी। बालाकोट के कुछ इलाके अभी भी पाकिस्तानी अर्द्धसैनिक बलों ने घेर रखे हैं और यहां पर किसी को जाने की इजाजत नहीं है। रिपोर्ट के मुताबिक बालाकोट स्थित मदरसे में अभी भी 300 बच्चे मौजूद हैं।

एमिसैट सैटेलाइट का इस्तेमाल दुश्मन के रडार का पता लगाने और कम्युनिकेशंस इंटेलिजेंस और तस्वीरों को इकट्ठा करने के लिए किया जाएगा। वहीं डीआरडीओ के पूर्व वैज्ञानिक ने बताया कि'मिलिट्री सैटेलाइट जैसे कि एमिसैट की तीन खासियत हैं।

अमेरिका के हेवीलिफ्ट चिनूक सीएच-47 हेलीकॉप्टर भारतीय वायु सेना के बेड़े में आज शामिल हो गया। चंडीगढ़ एयरबेस पर एक इंडक्शन समारोह के दौरान इस हेलीकॉप्टर को वायुसेना के बेड़े में शामिल किया गया। इस दौरान वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ भी मौजूद थे। इसे पाकिस्तानी सीमा पर वायुसेना को और अधिक ताकतवर बनाने में इस्तेमाल किया जाएगा।  

अमेरिका के हेवीलिफ्ट चिनूक सीएच-47 हेलीकॉप्टर आज भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल हो गया। इसे पाकिस्तानी सीमा पर वायुसेना को और अधिक ताकतवर बनाने में इस्तेमाल किया जाएगा।

वायु सेना के सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान ने F16 फाइटर प्लेन की नई स्क्वाड्रन बनाई है जिसे मुशफ एयर बेस में बनाया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक नए स्क्वाड्रन का नाम 'Aggressor' रखा गया है

भारतीय वायु सेना ने गुरुवार रात पंजाब और कश्मीर में पाकिस्तान सीमा के समीप अभ्यास किया। इस अभ्यास में बड़े पैमाने पर भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने हिस्सा लिया।

पाकिस्तान के F16 विमान को मार गिराने वाले भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंद की जांच प्रक्रिया अब पूरी हो गई है। IAF के सूत्रों के मुताबिक, अभिनंदन से भारतीय वायुसेना और दूसरी एजेंसियों ने पूछताछ पूरी कर ली है और अब वो सेना के अनुसंधान और रेफरल अस्पताल के डॉक्टरों की सलाह पर छुट्टी पर जाएंगे।

भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान को एक कविता के जरिए ट्रोल किया है। इस कविता में कहा गया कि भारतीय वायुसेना के मिराज 2000 लड़ाकू विमानों को पाकिस्तान में घुसना पड़ा क्योंकि इस्लामाबाद ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर हमला करके अपनी सीमा पार की थी।