Indian Army

खुफिया सूत्रों ने पाकिस्तान में पल रहे आतंकी ठिकानों के बारे में कई अहम जानकारियां शेयर की है। एजेंसियों ने उन ठिकानों के नाम भी जाहिर कर दिए हैं जहां से पाकिस्तानपरस्त आतंकी भारत में बड़े हमले की तैयारी कर रहे हैं।

कश्मीर के अलगाववादी नेताओं की हिम्मत अब जवाब दे चुकी है। लंबी हिरासत और नजरबंदी ने उनके हौसले पस्त कर दिए हैं। घाटी में कहीं से भी समर्थन न मिलता देखकर भी वे भीतर से टूट चुके हैं।

आज से ठीक तीन साल पहले आज ही के दिन 18 सितंबर को उरी हमला हुआ था। सुबह साढ़े पांच बजे जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकवादियों ने जम्मू कश्मीर के उरी में स्थित भारतीय सेना के ब्रिगेड हेडक्वार्टर पर हमला कर दिया था।

भारतीय वायुसेना और सेना के जवानों ने 17 सितंबर को ईस्टर्न लद्दाख के इलाके में जमकर युद्ध का अभ्यास किया। इस अभ्यास सत्र में सेना और वायुसेना की कई टुकड़ियां शामिल थी।

भारतीय सेना ने एक बार फिर पाकिस्तानी बैट की घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया है। सेना ने इसका एक वीडियो भी जारी किया है। सेना की तरफ जारी बयान के मुताबिक, यह वीडियो 12-13 सितंबर का है, जिसमें देखा जा सकता है कि पाकिस्तान बैट किस तरह से हाजीपुर सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश कर रहा है।

श्रीनगर में अशांति फैलाने की कोशिशें जारी हैं। करीब दो दर्जन आतंकवादी श्रीनगर के आसपास छिपे हुए हैं। खुफिया सूत्रों के मुताबिक ये बस सही मौके के इंतजार में हैं। ये कश्मीर में सख्ती कम होने और सुरक्षा प्रतिबंधों के ढीला होने की ताक में हैं।

भारतीय सेना ने सफेद झंड़े को देखकर उसका मान रखा उन्होंने पाकिस्तान के सैनिकों पर गोली नहीं चलाई और उनके सैनिकों के शव ले जाने दिए। ये पूरी घटना एलओसी पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। बता दें कि पाकिस्तान के ये सैनिक सीजफायर के उल्लंघन के बाद भारत की जवाबी कार्रवाई में मारे गए थे।

सेना अध्यक्ष बिपिन रावत ने पाक को सख्त संदेश देते हुए कहा है कि, भारतीय सेना पीओके में किसी भी अभियान को अंजाम देने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने खुद इस बात का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि कुछ युवा पहले ही रास्ता भटक कर आतंकियों के साथ चले गए थे। सुरक्षा बल उनके साथ संपर्क में हैं और उन्हें मेनस्ट्रीम में वापस लेने की लाने की कोशिश कर रहे हैं।

आसिफ वही आतंकी है जिसने कश्मीर के सोपोर में अपना आतंक मचा रखा था और 5 दिनों पहले ही इसने एक सेब कारोबारी के घर पर गोलियां बरसाई थी।