Indira Gandhi

'आपातकाल: लोकतंत्र की हत्या और पुनर्जन्म, न भूलेंगे न माफ करेंगे' नामक पुस्तक का संपादन जेएनयू के छात्र प्रशांत शाही ने किया है।

आपातकाल आजादी के बाद की सबसे बड़ी दुर्घटनाओं में से एक है। 25 जून, 1975 की रात को देशवासियों पर अचानक और अकारण आपातकाल थोप दिया गया।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने देश की जनता की बदहाली के लिए कांग्रेस की पिछली सरकारों को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने गरीबी हटाने की बात की, मगर जनता की गरीबी नहीं गई।

संजय के इस बयान पर अब कांग्रेस की प्रतिक्रिया का इंतजार किया जा रहा है। बता दें कि महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन की सरकार है।

एक तरफ जहां राहुल गांधी द्वारा वीर सावरकर पर दिए गए बयान को लेकर शिवसेना कांग्रेस पर हमलावर है वहीं अब राहुल गांधी के इस बयान पर वीर सावरकर के पौत्र रंजीत सावरकर ने भी जमकर उनको लताड़ लगाई और जवाहरलाल नेहरू से लेकर इंदिरा गांधी तक पर निशाना साधा।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा कि देश की पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी को उनकी पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि। इसके साथ ही गृह मंत्री अमित शाह ने भी दिल्ली के मेजर ध्यानंद स्टेडियम से इंदिरा गांधी को याद करते हुए श्रद्धांजलि दी।

इंदिरा गांधी ने प्रधानमंत्री रहते हुए वीर सावरकर की लिखित में प्रशंसा की थी। अब इंदिरा गांधी के इस पत्र के सामने आने के बाद कांग्रेस इस मामले पर भी बैकफुट पर आती नजर आ रही है।

विद्या बालन ने साल की शुरुआत में ही घोषणा की थी कि वह इंदिरा गांधी पर बनने जा रही एक वेब सीरीज में काम करने की योजना बना रही हैं।

पिछले 19 सालों में देश ने अपने बजट में काफी ऐसे बदलाव किए जिसे आप भी नहीं जानते होंगे। पहले रेल और वित्त बजट(आम बजट) अलग-अलग पेश किया जाता था लेकिन पिछली सरकार में रेल बजट को आम बजट का हिस्सा बना दिया गया।

5 जुलाई को मोदी सरकार-2 का पहला आम बजट पेश किया जाएगा। देश की नजरें वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर होंगी कि वो देश को क्या-क्या देने वाली हैं। निर्मला सीतारमण दूसरी महिला होंगी जो बजट पेश करने वाली हैं।