International Market

एमसीएक्स पर पीली धातु में ढाई साल बाद सबसे बड़ी एक दिनी गिरावट दर्ज की गई।

एक दिन की गिरावट के बाद बुधवार को फिर पेट्रोल के दाम में स्थिरता दर्ज की गई, जबकि डीजल के दाम में लगातार तीसरे दिन कोई बदलाव नहीं हुआ है। उधर, अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार में कच्चे तेल के दाम में फिर तेजी लौटी है।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सोमवार को सोने-चांदी में आई तेजी से घरेलू वायदा बाजार में भी महंगी धातुओं के भाव में तेजी का रुख देखने को मिला।

चीन की मुद्रा युआन में मंगलवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले मजबूती रही। चीनी विदेशी मुद्रा विनिमय व्यापार प्रणाली में युआन 179 आधार अंकों की बढ़त के साथ डॉलर के मुकाबले 6.6952 पर रहा।

पेट्रोल और डीजल के दाम में रविवार को लगातार चौथे दिन इजाफा हुआ। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में इन चार दिनों में पेट्रोल 42 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया है, जबकि डीजल के दाम में 47 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि हुई है।

पेट्रोल और डीजल के दाम में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन वृद्धि जारी रही। दिल्ली कोलकाता और मुंबई में पेट्रोल के दाम में 14 पैसे जबकि चेन्नई में 15 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि दर्ज की गई।

डॉलर के मुकाबले रुपया शुक्रवार को सपाट 71.25 पर खुला, लेकिन बाद में चार पैसे की बढ़त के साथ 71.21 पर बना हुआ था। उधर, ब्रिटिश पाउंड समेत कुछ मुद्राओं में डॉलर के मुकाबले कमजोरी आने से डॉलर इंडेक्स में बढ़त दर्ज की गई।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव में पिछले दिनों आई तेजी के कारण पेट्रोल और डीजल के दाम में वृद्धि का सिलसिलसा सोमवार को लगातार पांचवें दिन जारी रहा।

डॉलर के मुकाबले रुपये में सोमवार को भी मजबूती बनी रही। पिछले कारोबारी सत्र से आठ पैसे की बढ़त के साथ रुपया डॉलर के मुकाबले 71.23 पर खुला। हालांकि बाद में रुपया थोड़ा फिसलकर 71.25 पर आ गया।

पेट्रोल और डीजल के दाम में रविवार को स्थिरता बनी रही। तेल विपणन कंपनियों ने डीजल के दाम में लगातार तीसरे दिन कोई बदलाव नहीं किए। वहीं, पेट्रोल के दाम में लगातार दो दिनों की कटौती के बाद फिर से स्थिरता देखी गई।