IPL 2019

क्रिकेट का सबसे बड़ा लीग आईपीएल हमेशा चर्चा में रहता है। इस बार किसी मैच को लेकर नहीं बल्कि एक बहुत ही बड़े बदलाव को लेकर है। बता दें, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के मुख्यालय में मंगलवार को इंडियन प्रीमियर लीग की गवर्निग काउंसिल की बैठक हुई।

पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर संजय मांजरेकर ने मैच के बाद धोनी से काफी लम्बी बातचीत की। इस दौरान धोनी ने मैच को लेकर कई अहम मुद्दों पर चर्चा की। इसी दौरान धोनी ने कहा कि दोनों टीमों ने कई सारी गलतियां कीं और जिस टीम ने एक गलती कम की, उसी की जीत हुई।

अंतिम ओवर में पोलार्ड ने अम्पायर नितिन मेनन द्वारा दो गेंदों पर वाइड न दिए जाने को लेकर नाराजगी जाहिर की थी। अम्पायर के फैसले का मजाक उड़ाने के मकसद से वह ड्वायन ब्रावो द्वारा डाले जा रहे ओवर के दौरान स्टम्प्स से काफी दूर वाइड लाइन के पास जाकर स्टांस लिया था।

वार्नर ने इस सीजन 12 मैच खेले और 69.20 की औसत से 692 रन बनाए। इसमें एक शतक और आठ अर्धशतक शामिल हैं। वार्नर ने इस सीजन तीन मैच कम खेले क्योंकि विश्व कप टीम का हिस्सा बनने के लिए उन्हें बीच में से स्वदेश लौटना पड़ा।

चेन्नई सुपर किंग्स के लेग स्पिनर इमरान ताहिर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे और इसी कारण उन्हें पर्पल कैप से नवाजा गया। आईपीएल में एक सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज को पर्पल कैप दी जाती है।

मुंबई इंडियंस ने रविवार को राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए फाइनल में अपनी चिर प्रतिद्वंद्वी चेन्नई सुपर किंग्स को आखिरी ओवर में बाजी पलट एक रन से हरा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण का खिताब अपने नाम कर लिया।

आस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली का मानना है कि हरभजन सिंह अपनी बढ़ती उम्र के बावजूद बहुत आत्मविश्वास के साथ गेंदबाजी कर रहे हैं। हरभजन 38 वर्ष की उम्र में भी दमदार गेंदबाजी कर रहे हैं।

आईपीएल के इतिहास की सबसे सफल टीमों में गिनी जाने वाली चेन्नई को क्वालीफायर-1 में तीन बार की विजेता मुंबई इंडियंस ने मात दी थी और फाइनल में प्रवेश किया। उस हार से हालांकि चेन्नई बाहर नहीं हुई। उसे क्वालीफायर-2 में फाइनल में जाने का एक और मौका मिल रहा है।

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने यहां इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के क्वालीफायर-1 में मुंबई इंडियंस के खिलाफ हार झेलने के बाद अपने बल्लेबाजों की आलोचना की।

तीन बार की चैंपियन मुंबई ने सूर्यकुमार यादव (नाबाद 71) के मैच जिताऊ पारी के दम चेन्नई सुपर किंग्स को छह विकेट से हराकर फाइनल में प्रवेश कर लिया। मुंबई पांचवीं बार फाइनल में पहुंची है।