Iran

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह(Rajnath Singh) की ईरान(Iran) यात्रा भारत(India) के लिए अपने विस्तारित पड़ोस के हिस्से के रूप में और साथ ही कनेक्टिविटी परियोजनाओं को देखते हुए महत्वपूर्ण ​मानी जा रही ​है।

ईरान(Iran) की परमाणु गतिविधियों पर भी फिर पाबंदी लगेगी। गौरतलब है कि ईरान पर प्रतिबंध लगाने संबंधी प्रस्ताव पर पिछले सप्ताह हुए मतदान में अमेरिका(America) के पक्ष में सिर्फ एक सदस्य ने वोट किया था, रूस और चीन ने इसका विरोध किया जबकि 11 सदस्य अनुपस्थित रहे थे।

राष्ट्रपति ने कहा कि वर्तमान ईरानी कैलेंडर जो कि 20 मार्च 2021 को समाप्त होने वाला है, उसके अंत तक देश बीमारी की चपेट में होगा। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों से कोविड-19 संक्रमण से निपटने के लिए पर्याप्त चिकित्सा उपकरण और उपचार सेवाएं प्रदान करने का आह्वान किया।

चीन अपनी नापाक हरकतों से अभी भी बाज नहीं आ रहा है। ईरान और चीन के बीच 400 अरब डॉलर की डील का असर नजर आने लगा है। चीन से हाथ मिलाते ही ईरान ने भारत को बड़ा झटका देते हुए चाबहार रेल परियोजना से बाहर कर दिया है।

ईरान में फंसे कुल 687 भारतीयों को लेकर भारतीय नौसेना का पोत आईएनएस जलाश्व बुधवार को यहां तूतीकोरिन में वीओ चिदंबरनार बंदरगाह पहुंचा। एक रक्षा अधिकारी ने यह जानकारी दी।

ईरान ने बगदाद में ड्रोन हमले में एक शीर्ष ईरानी जनरल की मौत को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप और दर्जनों अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए वारंट जारी किया है। इसके लिए ईरान ने इंटरपोल से मदद मांगी है।

ईरानी विदेश मंत्री जवाद जरीफ ने गुरुवार को कहा था कि ईरान को अपमानित करने के लिए अमेरिका को संयुक्त राष्ट्र का दुरुपयोग करने का कोई अधिकार नहीं है।

सऊदी अरब में पिछले 24 घंटे में 1701 नए मामले सामने आए हैं और 10 लोगों की मौत हुई है। देश में अब कुल मरीजों का आंकड़ा 35,432 हो गया है वहीं 229 की मौत हुई है।

ईरान में इसी अवधि में कुल मामले 5000 से अधिक निकल गए। साउथ कोरिया और इटली में भी वैसे ही हालात रहे। भारत इनकी तुलना में बेहद ही कम प्रभावित हुआ है और भारत में इस रफ्तार पर भी तेजी से ब्रेक लगा है।

सेना के अधिकारी ने कहा, "जोधपुर में पहले निकाले गए 277 लोगों का जत्था आराम से रह रहा है और सेना की मेडिकल टीमों द्वारा उनकी नियमित रूप से निगरानी की जा रही है।"