isis

साल 2017 के अंत में इराकी सुरक्षा बलों द्वारा आईएस आतंकवादियों को देशभर में हराने के बाद से देश में सुरक्षा स्थिति में हालांकि अविश्वसनीय बदलाव आया है, लेकिन युद्धग्रस्त देश में छिटपुट हमले हुए हैं।

वसीम रिजवी ने ओवैसी की तुलना आतंकी संगठन आईएसआईएस के पूर्व सरगाना अबु बकर अल बगदादी से कर डाली। उन्होंने कहा कि आतंकी संगठन आईएसआईएस के पूर्व सरगना अबु बकर अल बगदादी और औवेसी में कोई फर्क नहीं है। औवेसी जुबान से आतंक फैला रहे हैं। दोनों एक समान हैं।

आतंकी संगठन आईएसआईएस सगरना अबु बकर अल बगदादी के अंत के बाद सुरक्षा एजेंसियों को एक और बड़ी सफलता हाथ लगी है। तुर्की की सेना ने बगदादी की बहन को उत्तरी सीरिया के शहर से गिरफ्तार किया है।

दुनिया के सबसे खौफनाक आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का सरगना अबु बकर अल बगदादी अमेरिकी सुरक्षाकर्मियों के ऑपरेशन में मारा गया था। खुद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस बात का ऐलान मीडिया के सामने आकर किया था।

इस्लामिक स्टेट के सरगना अबू बक्र-अल बगदादी के मारे जाने के बाद अब अमेरिकी सेना ने अब उसके उत्तराधिकारी को भी मौत के घाट उतार दिया है। मंगलवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

कारदाश ने अगस्त महीने मे कमान संभालने के फौरन बाद अपने खास लोगो को संदेश दिया था कि दुनियाभर के लोगों को इस्लामिक स्टेट की लड़ाई में शामिल किया जाए। 

पाकिस्तान के पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक ने बगदादी की मौत पर सावल खड़े किए हैं। रहमान मलिक का कहना है कि, अभी तक आईएसआईएस ने बगदादी की मौत की पुष्टी नहीं की है। 

अमेरिकी राष्ट्रपति के मुताबिक सुरंग में धमाके के बाद अमेरिकी सेना ने पहले बगदादी की बॉडी हासिल की और ऑन स्पॉट DNA टेस्ट किए, तब पता चला कि जिस शख्स ने खुद को उठाया है वो बगदादी ही है।

ट्रंप ने बताया कि बगदादी अपने बच्चों के साथ सुरंग के जरिए भागने की कोशिश कर रहा था लेकिन कामयाब नहीं हो पाया। खुद को फंसता हुआ देख बगदादी ने अपनी सुसाइड वेस्ट जला ली और अपने तीन बच्चों समेत मारा गया।

ट्रंप का यह बयान कि कुछ बहुत बड़ा हुआ है, जरूर इस ओर इशारा कर रहा है कि क्या अमेरिकी सेना बगदादी को मारने में कामयाब हो गई है? ट्रप के ऐलान के बाद ही ये तस्वीर पूरी तरह साफ हो पाएगी।