Jaish-E-mohammed

आतंकी बिलाल अहमद पुलवामा में ही अपनी आरा मिल चलाता है, और इसी से वो अपना घर भी चलाता था। फिर बीच में आतंकियों के संपर्क में आया और आतंकी संगठन जैश के लिए वो काम करने लगा।

पुलिस ने एक बयान में कहा, "पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, इनके पाकिस्तान स्थित आतंकी संचालकों के साथ करीबी संबंध हैं और नशे के धंधे, हथियारों की आपूर्ति में शामिल होने के अलावा, यह प्रतिबंधित आतंकी संगठन जेईएम के सक्रिय आतंकवादियों की वित्तीय मदद भी करते थे।"

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों ने एक बहुत बड़ी साजिश नाकाम की है। 50 किलो वाले इस बारूदी प्लान को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है।

उन्होंने कहा कि घेरा कड़ा कर दिया गया और सुबह बम निरोधक दस्ता मौके पर पहुंचा और उसने पाया कि वाहन विस्फोटक से भरा हुआ है। आईजी ने कहा, "पुलिस, सीआरपीएफ और सेना की टीमें मौके पर पहुंचीं और आईईडी को डिफ्यूज कर एक बड़ी त्रासदी को टाला गया।"

टीआरएफ ने कहा कि कुछ दिन पहले हमने हिजबुल को चेतावनी दी थी कि कश्मीरी पुलिस वालों और सिविलियंस को मारना बंद करें। उन्होंने फिर एक जम्मू-कश्मीर पुलिस वाले को किडनैप किया। टीआरएफ ने चेतावनी देते हुए कहा कि हिजबुल को यह समझना चाहिए कि हमारी लड़ाई सेना से है न कि कश्मीरियों से। हम इन लोगों के सपॉर्ट के बिना सेना से नहीं लड़ सकते। 

नियंत्रण रेखा पर भारतीय सेना पर हमले को अंजाम देने के लिए आतंकियों के करीब 50 लॉन्चिंग पैड तैयार किए हैं।

रामनगरी अयोध्या में आतंकी हमले की तैयारी की जा रही है। जी हां, सूत्रों की मानें तो, खुफिया एजेंसियों ने जैश-ए-मोहम्मद के एक मैसेज को इंटरसेप्ट किया है। सूत्रों की अनुसार, जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े टेलीग्राम चैनल पर खुफिया एजेंसियों ने जैश चीफ मसूद अजहर का मैसेज इंटरसेप्ट किया है।

रामनगरी अयोध्या में आतंकी हमले की तैयारी की जा रही है। जी हां, सूत्रों की मानें तो, खुफिया एजेंसियों ने जैश-ए-मोहम्मद के एक मैसेज को इंटरसेप्ट किया है। सूत्रों की अनुसार, जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े टेलीग्राम चैनल पर खुफिया एजेंसियों ने जैश चीफ मसूद अजहर का मैसेज इंटरसेप्ट किया है।

सुरक्षा एजेंसियों ने जम्मू-कश्मीर और उसके आस-पास के इलाकों में स्थित सैन्य प्रतिष्ठानों पर आत्मघाती हमले का अलर्ट जारी किया है। जानकारी के अनुसार, जैश-ए-मोहम्मद के 8-10 आतंकी जम्मू-कश्मीर और उसके आस-पास स्थित भारतीय वायुसेना के ठिकानों पर आत्मघाती हमला कर सकते हैं।

चीन ने बुधवार को कहा कि वह पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के प्रमुख मसूद अजहर को काली सूची में डालने के मुद्दे पर कड़ी परिश्रम कर रहा है। इसके साथ ही चीन ने अमेरिका को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में खुद का मसौदा प्रस्ताव पेश करने को लेकर एक बार फिर चेतावनी दी है।