Jitendra Singh

डॉ. जितेंद्र सिंह केंद्र सरकार में पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास (डोनर) राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) व प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष मामलों के राज्यमंत्री हैं।

जम्मू कश्मीर में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर मोदी सरकार की योजना शीशे की तरह साफ है। सरकार इस कानून को जम्मू-कश्मीर में भी लागू करने जा रही है।

चंद्रयान-2 मिशन को हर भारतीय ने उत्सुकता के साथ देखा। इसमें कुछ हद तक निराशा हुई जैसा कि माननीय सदस्य ने कहा। लेकिन इसे असफलता के रूप में बताया जाना अनुचित होगा।

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने देश के बंटवारे को "आधुनिक भारत में सबसे बड़ी गलती" करार दिया और कहा कि अगर विभाजन नहीं होता तो आज जम्मू-कश्मीर पर कोई चर्चा नहीं होती।

उन्होंने कहा, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निरस्त करना पिछले 100 दिनों में सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा, ये केवल मेरा या मेरी पार्टी का सपना नहीं है बल्कि 1994 में पीवी नरसिंह राव के नेतृत्व वाली तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा संसद से सर्वसम्मति से पारित कराया गया संकल्प है।

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कांग्रेस के साथ ही नेशनल कॉन्फ्रेंस को भी अपने निशाने पर लिया है और कहा कि, ये दोनों पार्टियां जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे का इस्तेमाल अपने फायदे के लिए करती है।

उत्तर प्रदेश की आईएएस एसोसिएशन की पुरानी टीम को एक बार फिर कमान संभालने का मौका मिला। इसमें वरिष्ठ आईएएस प्रवीर कुमार को एक बार फिर संघ का अध्यक्ष चुन लिया गया।

जम्मू। जम्मू-कश्मीर के उधमपुर जिले में गुरुवार को एक सड़क दुर्घटना में 13 अमरनाथ श्रद्धालु घायल हो गए।तीर्थयात्रियों को ले...

नई दिल्ली। कठुआ गैंगरेप एवं हत्या मामले को लेकर केंद्र सरकार सीबीआई से जांच कराने को तैयार है। पीएमओ में...