JNU

'आपातकाल: लोकतंत्र की हत्या और पुनर्जन्म, न भूलेंगे न माफ करेंगे' नामक पुस्तक का संपादन जेएनयू के छात्र प्रशांत शाही ने किया है।

देश में कोरोना को लेकर हाहाकार मचा है। संक्रमित मरीजों की तादाद लगातार बढ़ रही है। देश में लागू लॉकडाउन में ढील दी गई है और विमान सेवाओं के साथ ही रेल का परिचालन भी शुरू हो रहा है। ऐसे में दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के प्रशासन ने अपने छात्रों के लिए सर्कुलर जारी किया है।

एबीवीपी ने निशुल्क कोचिंग शुरू की है। जेएनयू की प्रवेश परीक्षा के लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने जेएनयू में दाखिला लेने के इच्छुक छात्र-छात्राओं को इस लॉकडाउन मे निशुल्क घर बैठे ऑनलाइन निशुल्क कोचिंग क्लास उपलब्ध करा रही है।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए जेएनयू, इग्नू पीएचडी, होटल मैनेजमेंट समेत कई अन्य प्रवेश परीक्षाओं का फार्म भरने की आखरी तिथि बढ़ाने का निर्णय लिया है।

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय(JNU) के छात्र नेता उमर खालिद पर गैर कानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम (UAPA) के तहत मामला दर्ज किया गया है। उमर खालिद के अलावा भजनपुरा इलाके के स्थानीय नागरिक दानिश के खिलाफ भी UAPA लगाया गया है।

गौरतलब है कि शरजील पर जामिया मिलिया इस्लामिया और अलीगढ़ में कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने के मामले में राजद्रोह का मामला दर्ज किए गया था जिसके बाद से वो फरार हो गया था लेकिन दिल्ली पुलिस ने 28 जनवरी को बिहार के जहानाबाद से उसे गिरफ्तार किया था।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए जेएनयूए, यूजीसी नेट और इग्नू पीएचडी समेत कई अन्य प्रवेश परीक्षाओं को स्थगित करने का निर्णय लिया है।

थाने में दर्ज एफआईआर के अनुसार, छात्र ने सुरक्षाकर्मियों के साथ हाथापाई भी शुरू कर दी। दूसरी ओर इस विवि प्रशासन ने शनिवार को दो टूक कहा कि, किसी भी कीमत पर कैंपस में इस तरह की कोई भी हरकत बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने लॉक डाउन को को ध्यान में रखते हुए जेएनयू, यूजीसी नेट और इग्नू पीएचडी समेत कई अन्य प्रवेश परीक्षाओं को फिलहाल स्थगित करने का निर्णय लिया है।

सोशल मीडिया पर एक और कविता वायरल हो रही है जिसमें आमिर अजीज की उस कविता का जवाब दिया गया है। पहले आप उस कविता को सुनिए...जिसमें लिखा गया है "तुमसे सब याद रखा जाएगा?..."