JNU Violence

जेएनयू हिंसा मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने आज एक बड़ा आदेश दिया। हाईकोर्ट ने व्हाट्सएप और गूगल को आदेश देते हुए कहा कि 5 जनवरी को JNU में हिंसा से संबंधित सोशल मीडिया का डेटा संरक्षित कर जांच के लिए उपलब्ध कराएं।

दीपिका पादुकोण के जेएनयू जाने का विवाद अभी भी थमा नहीं है। गौर हो कि जेएनयू में हुए विवाद के बाद दीपिका छात्रों के प्रदर्शन में शामिल होने पहुंचीं थीं। इस दौरान दीपिका ने वहां घायल छात्रों से मुलाकात भी की थी।

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) परिसर में हुई हिंसा पर अब बॉलीवुड के अभिनेता वरुण धवन ने भी कहा है कि वह भी इस मुद्दे पर न्यूट्रल नहीं रह सकते हैं।

जेएनयू हिंसा की जांच कर रही दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को बड़ी कामयाबी मिली है। दिल्ली पुलिस ने जांच के सिलसिले में पेरियार हॉस्टल और साबरमती हॉस्टल के 150 से ज्यादा स्टूडेंट्स के बयान लिए। वार्डन और हॉस्टल स्टाफ के बयान भी दर्ज किए गए।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को जेएनयू मामले की जांच में अहम कामयाबी मिली है। पुलिस को अब तक अब तक लगभग 100 मोबाइल वीडियो फुटेज मिली है जिसमे प्रदर्शन से लेकर बवाल तक के वीडियोज हैं। यह फुटेज जेएनयू के गुनाहगारों की तक पहुंचने के लिए बेहद कारगर साबित हो सकती है।

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में रविवार रात को हुई हिंसा के विरोध में देश भर में प्रदर्शन हो रहे हैं।मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर भी प्रदर्शनकारी जुटे। हालांकि यह प्रदर्शन तो जेएनयू हिंसा के विरोध में था, लेकिन इस दौरान फ्री कश्मीर लिखे पोस्टर भी देखे गए।

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में रविवार रात हुई हिंसा में अब नया मोड़ सामने आया है। जेएनयू में मास्क पहनकर छात्रों पर हमला करने वाली भीड़ की जिम्मेदारी हिंदू रक्षा दल नाम के एक संगठन ने ली है।

बॉलीवुड अभिनेता अनिल कपूर ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्रों पर हमले की निंदा करते हुए कहा कि इस घटना के दोषियों को सजा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि रविवार रात छात्रों के साथ जो कुछ भी हुआ उसे देखकर वह वास्तव में बहुत दुखी और हैरान हैं।

जेएनयू की सुरक्षा जमकर बढ़ा दी गयी है। जेएनयू के बाहर दिल्ली पुलिस के 700 जवान तैनात कर दिए गए हैं। दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम भी जेएनयू के भीतर छानबीन में लगी हुई है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) हिंसा को लेकर बेतुका बयान दिया है। उद्धव ठाकरे ने जेएनयू हिंसा की तुलना 26/11 मुंबई हमले से कर डाली है।