KamalNath

मध्य प्रदेश में शिक्षकों के तबादले अब सीधे आवेदन देने पर नहीं, बल्कि ऑनलाइन आवेदन करने पर ही होंगे। इसके लिए राज्य का स्कूली शिक्षा विभाग नीति बनाने में लग गया है।

राजधानी के कमला नगर क्षेत्र में मासूम बालिका के परिजनों से मुलाकात करने के बाद बुधवार को महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने संवाददाताओं से कहा, यह घटना हर किसी को डराने के साथ आक्रोशित कर देने वाली है।

दक्षिण कोरिया की शिक्षा प्रणाली को दुनिया की सबसे बेहतरीन शिक्षा प्रणालियों में से एक माना जाता है। वहां बड़ी संख्या में विद्यार्थी 12वीं की कक्षा तक की पढ़ाई पूरा करते ही रोजगार पा लेते है।

इससे राज्य सरकार पर 1,500 करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार आने की आशंका है। राज्य में इस बार सरकार ने किसानों से 75 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी की है। इसमें से केंद्र सरकार 67़.25 लाख मीट्रिक टन गेहूं लेने की बात कह रही है। इससे राज्य सरकार की मुसीबतें बढ़ गई हैं।

कांग्रेस आगामी दिनों में होने वाले नगर निकाय और पंचायत चुनाव के लिए ऐसे अध्यक्ष की तलाश है, जो पार्टी के नेताओं में समन्वय बना सके और जमीनी स्तर पर संगठन को मजबूत कर सके।

उज्जैन में कमलनाथ के रिश्तेदारों की आवभगत पर भाजपा ने दिया ये बयान

नेता प्रतिपक्ष भार्गव ने सोमवार को एक समाचार चैनल से बातचीत में कहा, "राज्य में कांग्रेस की करारी हार हुई है, किसी भी दल की जीत होने अथवा हार होने के कारण खोजे जाते हैं।"

भाजपा नेता राजेंद्र त्यागी के अनुसार, यह जमीन सरकार द्वारा संचालित चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय (सीसीएसयू) की है। त्यागी की शिकायत पर उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक पत्र लिखा है, जिसमें आईएमटी कॉलेज को फर्जी तरीके से करोड़ों रुपये की जमीन आवंटित किए जाने की जांच शुरू करने के लिए कहा गया है।

लोकसभा चुनाव के एग्जिट पोल के नतीजों के बाद अब मध्य प्रदेश में सियासी हलचल तेज हो गई है। एमपी बीजेपी ने कमलनाथ सरकार के अल्पमत में होने का दावा कर दिया है। बीजेपी ने राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग करने की बात कही है। तो वहीं कमलनाथ सरकार ने बीजेपी के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि उनकी सरकार बेहद मजबूत है।

सिख दंगों में वर्ष 1984 में हजारों लोग मारे गए थे। इस घटना को लेकर सैम पित्रोदा का एक बयान आया था, जिसमें उन्होंने कहा था, 'हुआ तो हुआ'। बाद में पित्रोदा ने इसपर खेद जताया था।