kashi

धर्म की नगरी कहे जानी वाली काशी में मंगलवार से देवालय खुल गये हैं। श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के द्वार मंगलाआरती के बाद आम भक्तों के लिए खोल दिए गए हैं। ढाई माह बाद श्रद्धालु अपने आराध्य के दर्शन के बाद बेहद खुश हैं।

भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी के भव्य स्वागत की तैयारी की गयी है। सड़क से गुजरते समय लोग उनके उपर गुलाब की पंखुड़िया डाल कर स्वागत करेंगे। रास्ते में डमरूदल द्वारा विशेष आरती का आयोजन किया गया है।

पीएम मोदी को हर रक्षाबंधन बनारस की मुस्लिम बहनों की भेजी राखी का इंतज़ार होता है। बनारस का मुस्लिम महिला फाउंडेशन, साल 2014 से ही इस सिलसिले को बनाए हुए है।

जहां पीएम मोदी काशी पहुंचेंगे तो वहीं उनकी सुरक्षा के काफी कड़े इंतजाम किए गए हैं। उनकी यात्रा से पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को खुद काशी विश्वनाथ मंदिर जाकर तैयारियों का जायजा लिया।

वाराणसी में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि अब तक कांग्रेस कहां थी, 70 वर्ष बीत गये। राम मंदिर निर्माण के लिए क्यों नहीं दबाव बनाया गया। साढ़े 4 वर्ष बीते हैं मोदी सरकार के क्यों इसी सरकार पर इतने दबाव बन रहे हैं।

नई दिल्ली। वाराणसी के प्रसिद्ध संकटमोचन मन्दिर को उड़ाने की धमकी किसी अज्ञात ने दी है। मंदिर के महंत प्रो....

नई दिल्ली। दुनिया के एक मात्र जीवंत शहर काशी की प्राचीनता की बातें बहुत होती रही हैं। इतिहास को खंगालें...

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर जा रहे हैं। पीएम यहां...

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अपना 68वां जन्मदिन संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मनाया। यहां उन्होंने काशी विधापीठ...

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाराणसी दौरे का आज दूसरा दिन है। प्रधानमंत्री मोदी ने बीएचयू के एम्फीथियेटर में...