Lockdown 4.0

गोपालंगज में तीन लोगों की हत्या के मामले में आरोपी विधायक पप्पू पांडेय की गिरफ्तरी की मांग को लेकर विधायकों के साथ शुक्रवार को तेजस्वी गोपालगंज के लिए निकले, लेकिन पुलिस प्रशासन ने उन्हें प्रवेश द्वार पर रोक दिया। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि गोपालगंज जाने की अनुमति नहीं दी गई है।

पीयूष गोयल ने ट्वीट कर लिखा, 'मेरी सभी नागरिकों से अपील है कि गंभीर रोग से ग्रस्त, गर्भवती महिलाएं, व 65 से अधिक व 10 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में बहुत आवश्यक होने पर ही यात्रा करें।'

केंद्र का प्रतिनिधित्व कर रहे मेहता ने कहा कि हर दिन लगभग 3.36 लाख प्रवासियों को स्थानांतरित किया गया है। उन्होंने जोर देकर कहा कि सरकार अपने प्रयासों को तब तक नहीं रोकेगी, जब तक कि अंतिम प्रवासी को उसके गृह राज्य में वापस नहीं भेज दिया जाता।

मृतक मोहम्मद खाजा की पत्नी ने कहा कि आज तक कभी ऐसा नहीं हुआ कि एक मुसलमान को हिंदुओं के कब्रिस्तान में दफनाना पड़ा। उनको दफनाने के लिए कितने कब्रिस्तानों का चक्कर लगाना पड़ा।

इससे पहले उन्होंने लिखा था कि केन्द्र व महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद के कारण लाखों प्रवासी श्रमिक अभी भी बहुत बुरी तरह से पिस रहे हैं जो अति-दु:खद व दुर्भाग्यपूर्ण है। जरूरी है कि आरोप-प्रत्यारोप छोड़कर इन मजलूमों पर ध्यान दें ताकि कोरोना की चपेट में फंसकर इन लोगों की जिन्दगी पूरी तरह बर्बाद होने से बच सके।

दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 मई को मन की बात कार्यक्रम कर रहे है। कुछ खबरों में इसी को आधार बनाकर कहा गया कि पीएम इस बातचीत के दौरान लॉकडाउन के पांचवें चरण का ऐलान भी कर सकते हैं।

योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि उत्तर प्रदेश वापस आने के इच्छुक प्रवासी श्रमिकों के बारे में पता लगाने के लिए सभी राज्य सरकारों को पत्र भेजा जाना चाहिए।

राहुल गांधी द्वारा लॉकडाउन पर सवाल उठाने पर जावड़ेकर ने कहा कि जब देश भर में राष्ट्रव्यापी बंदी लागू की गई, उस समय भी कांग्रेस ने हाय तौबा मचाया था और आज जब लॉकडाउन खत्म हो रहा है तो फिर सवाल उठा रही है। ये कैसी राजनीति है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक कोरोना के अब तक देश में कुल 60,490 मरीज ठीक हो चुके हैं। रिकवरी रेट में सुधार जारी है, वर्तमान में यह 41.61 प्रतिशत है। लव अग्रवाल के मुताबिक, मृत्यु दर में भी कमी आई है, हमारा मृत्यु दर 3.3 प्रतिशत से घटकर 2.87 प्रतिशत हो चुका है।

मंत्रालय ने बताया, गैर निर्धारित और निजी परिचालक, स्थिर डैने वाले विमानों, हेलीकॉप्टर, छोटे विमानों का परिचालन घरेलू उड़ान के लिए 25 मई से कर सकते हैं।