Lockdown 5.0

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने फिर कोरोना संकट काल के बीच केंद्र सरकार को घेरने की कोशिश की है। उन्होंने देशव्यापी लॉकडाउन को कोरोना संकट से निपटने में पूरी तरह असफल बताया है।

उन्होंने जवाब में लिखा ‘Sir, अब कोई भई कहीं नहीं फंसेगा। आपके प्रवासी भाई कल आपके पास भेज देंगे सर। कभी MP आया तो पोहा ज़रूर खिलाना’

उन्होंने कहा कि यह यात्रा शुरूआत में सीमित तौर पर शुरू होगी और बाद में अन्य राज्य सरकारों से बातचीत करने के बाद इसको दूसरे राज्यों के तीर्थयात्रियों और पर्यटकों के लिए भी खोल दिया जाएगा ।

यूपीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्री की तुलना में राहुल गांधी की समग्र (ओवरऑल) सेटिस्फेक्शन रेटिंग माइनस 56.78 है और उन्हें सबसे कम रेटिंग छत्तीसगढ़ में माइनस 75.65 मिली है।

कांग्रेस ने कोरोनावायरस संक्रमण को नियंत्रित करने की सरकार की रणनीति एवं योजना और अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए लॉकडाउन से बाहर निकलने के मार्ग और आगे बढ़ने के तरीके पर सरकार से सवाल किया।

केंद्र सरकार ने कंटेनमेंट जोन में राष्ट्रव्यापी बंद को 30 जून तक के लिए बढ़ा दिया है। इस बार जिन गतिविधियों में प्रतिबंध लगाया गया था, उन्हें अलग-अलग चरणों के हिसाब से दोबारा खोला जाएगा।

केंद्र ने शनिवार को 68 दिन के राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बाद एक्जिट प्लान की जानकारी दी है। सरकार ने कहा कि 30 जून तक केवल कंटेनमेंट जोन में ही पाबंदी रहेगी और इन जोनों के बाहर चरणबद्ध तरीके से प्रतिबंधित क्रियाकलापों को खोला जाएगा।

क्या लॉकडाउन 4.0 के बाद अब लॉकडाउन 5.0 भी होगा? होगा तो कैसा होगा? पाबंदियों में कुछ और छूट मिलेगी या फिर सख्ती का दायरा यही रहेगा? इन सवालों को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही थी।

राष्ट्रव्यापी बंद 5.0 में दिल्ली मेट्रो शुरू करने से लेकर और अधिक बाजार खोलने की योजना सिरे चढ़ सकती है। इसके साथ ही धार्मिक स्थलों को भी खोले जाने की संभावना है।

पणजी में शुक्रवार को पर्यटन मंत्रालय के एक आयोजन के मौके पर सावंत ने संवाददाताओं से यह भी कहा कि गोवा सोशल डिस्टेंसिंग के मानदंडों को लागू करने के साथ रेस्तरां, होटल, मॉल और जिम को फिर से शुरू करने के लिए तैयारी करेगा।