Lok Sabha

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान कहा कि इस प्रस्ताव का धन्यवाद देश की जनता का धन्यवाद है। एक सशक्त, सुरक्षित राष्ट्र का सपना हमारे देश के अनेकों महापुरुषों ने देखा है और उसे पूरा करने के लिए अधिक गति के साथ हम सबको मिलकर आगे बढ़ना है।

संसद सत्र में नुसरत जहां पारंपर‍िक अंदाज में नजर आईं। नई नवेली दुल्हन नुसरत ने माथे पर स‍िंदूर, हाथों में मेहंदी और चूड़ा पहना हुआ था। बता दें नुसरत जहां ने ब‍िजनेसमैन न‍िख‍िल जैन संग 19 जून को टर्की के बोडरम स‍िटी में शादी की है।

इसको पहले अध्यादेश के रूप में लागू किया गया था। जिसे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंजूरी दी थी। नियमों के अनुसार, अब यह बिल लोकसभा में चर्चा के लिए प्रस्तुत किया जाएगा। जम्मू और कश्मीर आरक्षण (संशोधन) अध्यादेश 2019 को केंद्रीय कैबिनेट ने 28 फरवरी 2019 को मंजूरी दी थी।

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने लोकसभा में भारी हंगामे के बीच यह बिल पेश किया। सरकार के पिछले कार्यकाल में भी तीन तलाक पर बिल लाया गया था लेकिन लोकसभा से पारित हो जाने के बाद यह बिल राज्यसभा से पास नहीं हो पाया था।

ऐसा माना जा रहा है कि राष्ट्रपति कोविंद के अभिभाषण में सरकार की आगामी नीतियों की एक झलक देखने को मिलेगी। राष्ट्रपति अपने अभ‌िभाषण में 'न्यू इंडिया' की संकल्पना को पेश करेंगे। इसमें भविष्य के भारत का जिक्र होगा।  

बैठक में अन्य मुद्दों के साथ देश में एक साथ चुनाव कराने तथा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के समापन समारोह के बारे में विचार किये जाने की उम्मीद है। इस बीच तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बैठक में हिस्सा नहीं लेने की बात कही है।

सपा नेता और संभल लोकसभा से चुनकर आए प्रत्याशी डॉ शफिकुर्रहमान बर्क ने लोकसभा में यह बयान दिया जिसके बाद हंगामा शुरू हो गया। उन्होंने अपने शपथ के अंत में कहा कि जहां तक वंदे मातरम् का तालुक्क है वह इस्लाम के खिलाफ है इसलिए मैं इसे नहीं मान सकता। हालांकि उन्होनें भारतीय संविधान की सराहना की ।

सत्र की शुरुआत राष्ट्रगान के साथ हुई और इसके बाद 2 मिनट का मौन रखा गया। अब नव निर्वाचित सांसद शपथ ले रहे हैं। सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसद सदस्य के तौर पर शपथ ली। इस दौरान सदन में मोदी-मोदी के नारे गूंजते रहे।

पीएम मोदी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि आज से नई शुरुआत हो रही है। इस नई शुरुआत में नए उत्साह और नए उमंग के साथ काम करेंगे। आज नए साथियों के परिचय का वक्त है। कईं दशकों बाद एक सरकार पूर्ण बहुमत और पहले से ज्यादा सीटों के साथ जीत दिलाई है।

17वीं लोकसभा के लिए उत्तर प्रदेश स्थित बरेली से सांसद संतोष गंगवार प्रोटेम स्पीकर होंगे। वह नए सांसदों को शपथ दिलाएंगे। प्रोटेम स्पीकर उसे बनाया जाता है, जो सबसे वरिष्ठ सांसद होता है। संतोष गंगवार आठवीं बार सांसद बने हैं। हालांकि अभी इसका औपचारिक ऐलान होना बाकी है।