Lok sabha Election 2019

अमरिंदर सिंह ने कहा कि लोकसभा चुनावों मैं जिम्मेदारी लूंगा और पद से इस्तीफा दे दूंगा। सीएम अमरिंदर ने अपने बयान में कहा कि सभी मंत्री और विधायक पार्टी के प्रदर्शन के लिए जिम्मेवार होंगे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने अगले हफ्ते आने जा रहे चुनाव नतीजे से पहले कहा कि, ''कोई भी भावी सरकार एक राष्ट्रीय दल द्वारा क्षेत्रीय दलों और सरकार की अगुवाई करने से ही स्थिर होगी।''

तेजप्रताप ने सभा के बाद पत्रकारों से कहा, "राहुल गांधी ने खुद कहा था कि मुझे भी भाषण देना है। मैंने अपनी इच्छा से कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा को भी अवगत कराया, लेकिन मौका नहीं दिया गया।"

चुनाव आयोग ने धूनी रमाने और हठयोग करने पर कंप्यूटर बाबा को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था। आयोग के नोटिस पर कंप्यूटर बाबा ने अपना जवाब दिया था। कंप्यूटर बाबा ने कहा था कि उन्होंने हठयोग में दिग्विजय सिंह को नहीं बुलाया था और न ही हठयोग का खर्च उन्होंने उठाया।

रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बुरी तरह हार देखकर सपा-बसपा सहित ये तमाम महामिलावटी आज पूरी तरह से पस्त है। पीएम मोदी ने कहा कि कोई 8 सीट, कोई 10 सीट, कोई 20-22 और कोई 35 सीट वाला प्रधानमंत्री बनने के सपने देखने लगा। लेकिन देश ने कह दिया है कि फिर एक बार फिर से मोदी सरकार।

कांग्रेस राहुल गांधी ने कहा, "पीड़िता को न्याय जरूर मिलेगा। आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। मैं यहां पीड़िता के परिवार से मिलने आया हूं ना कि कोई राजनीति करने। मैंने यहां जो भी कहा है उसे अमल में लाऊंगा।"

कांग्रेस प्रत्याशी सिन्हा के समर्थन में उनका रोड शो मोइनुल हक स्टेडियम के निकट से आरंभ होकर दिनकर गोलंबर से नाला रोड होते हुए बुद्घ मूर्ति चौराहा के पास आकर समाप्त होगा। कांग्रेस के नेता हरखु झा ने बताया कि इस रोड शो में महागठबंधन के नेता भी शामिल होंगे।

मायावती को निशाने पर लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, 'बहन जी ने पश्चिम बंगाल को लेकर मुझ पर निशाना साधा है। चुनाव आयोग को भी आड़े हाथों लिया है। जिस तरह ममता दीदी वहां पर यूपी-बिहार और पूर्वांचल के लोगों पर निशाना साध रही हैं, मुझे लगा बहन मायावती इस पर ममता दीदी को जरूर खरी-खोटी सुनाएंगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

मीडिया को संबोधित करते हुए मायावती ने बंगाल हिंसा और चुनाव आयोग के फैसले को लेकर निशाना साधा। मायावती ने कहा कि बंगाल में भाजपा के दबाव में चुनाव आयोग ने प्रचार रोका है।

 प्रधानमंत्री मोदी आज बंगाल में दो रैलियों को संबोधित करेंगे, तो वहीं बंगाल की सीएम ममता बनर्जी भी आज चार सभाओं को संबोधित करेंगी। बंगाल में चुनाव आयोग ने प्रचार के समय को घटा दिया है, जिस वजह से आज रात 10 बजे तक ही प्रचार हो पाएगा।