Lok sabha Election 2019

सुषमा स्वराज ने यहां एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, "वर्ष 2008 में मुंबई आतंकी हमले में मारे गए लोगों में 40 दूसरे 14 देशों के थे। तब कांग्रेस सरकार इसे अंतर्राष्ट्रीय मुद्दा बनाकर पाकिस्तान को वैश्विक स्तर पर अलग-थलग कर सकती थी, लेकिन वह सफल नहीं हुई।"

वहीं प्रियंका के अधिवक्ता ने बुधवार की सुबह कोर्ट को बताया था कि कोर्ट के आदेश के बावजूद प्रियंका को रिहा नहीं किया गया। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने बंगाल सरकार से जवाब मांगा तो बताया गया कि सुबह 09:40 बजे प्रियंका को रिहा कर दिया गया।

अमित शाह ने कहा कि कल यदि सीआरपीएफ नहीं होती तो मेरा वहां से बचकर निकलना मुश्किल था। सौभाग्य से ही मैं बचकर आया हूं। कल की घटना की कलकत्ता हाईकोर्ट अथवा सुप्रीम कोर्ट से जांच करा लें।

वहीं इस हिंसा को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधा है। देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि ममता जी आम चुनावों में अपनी हार को नजदीक देखकर हताश हो गई हैं। इसी कारण वह लोकतंत्र की हत्‍या कर रही हैं। मैं निर्वाचन आयोग से अपील करता हूं कि वह राज्‍य में स्‍वतंत्र एवं निष्‍पक्ष चुनाव कराए।

उन्होंने कहा, "नरेंद्र मोदी जी नफरत से बात करते हैं, मेरे पिता का अपमान करते हैं, दादी, परदादा के बारे में बोलते हैं, मगर मैं कभी भी जिंदगी भर नरेंद्र मोदी के परिवार के बारे में उनके माता-पिता के बारे में कभी नहीं बोलूंगा। मैं मर जाऊंगा मगर नरेंद्र मोदी जी की मां और पिता का अपमान कभी नहीं करूंगा।"

पीएम मोदी ने कहा कि महामिलावट वाले मिलकर मोदी को गालियां दे रहे हैं, ऐसा कोई दिन नहीं है जब ये मुझे गाली नहीं देते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमने जाति पूछ कर घर और शौचालय नहीं देता, मैं वोट भी जाति के नाम पर नहीं मांग रहा हूं।

केस की सुनवाई के दौरान प्रियंका शर्मा के वकील एनके कौल ने कहा कि यह मामला कानून के उल्लंघन का है। एक मीम के लिए 14 दिन की हिरासत कहां तक जायज है। एनके कौल की इस दलील पर जस्टिस इंदिरा बनर्जी ने कहा कि प्रियंका शर्मा को इस तस्वीर के लिए माफी तो मांगनी ही चाहिए। अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता तभी खत्म हो जाती है जब यह किसी के अधिकारों का उल्लंघन करती हो। इसलिए प्रियंका को माफी मांगनी चाहिए।

इसी के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्‍तर प्रदेश के बलिया, बिहार के बक्‍सर और सासाराम और चंड़ीगढ़ में पार्टी प्रत्‍याशी के पक्ष में चुनावी रैली को संबोधित करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी सीट से मैदान में हैं। इसके अलावा मनोज सिन्हा गाजीपुर से, अनुप्रिया पटेल मिर्जापुर से और महेंद्र नाथ पांडेय चंदौली से उम्मीदवार हैं। ये तीनों सीटें वाराणसी से लगी हुई हैं। नरेंद्र मोदी के बीते पांच सालों में बनारस में किए गए विकास कार्यो की परीक्षा भी होनी है।

प्रियंका इंदौर हवाई अड्डे से शहर की तरफ रोडशो के लिए जा रही थीं, तभी रास्ते में सड़क किनारे खड़े कई लोग मोदी मोदी के नारे लगाने लगे। नारे सुनकर प्रियंका ने अपने काले रंग के सफारी एसयूवी को रोक दी और उतरकर नारे लगा रहे लोगों के पास जा पहुंचीं।