Mahagathbandhan

Bihar: 'बिहार में का बा' (Bihar Mein Ka Ba) का जवाब देते हुए कई गाने आ गए हैं। इसमें बिहार की मैथिली ठाकुर के दिए जवाब को लोग काफी पसंद कर रहे थे। वहीं और एक गीत ने अभी धूम मचा रखी है।

Bihar Assembly Election: महागठबंधन(Mahagathbandhan) में सबसे अधिक सीटें RJD के हिस्से में आई हैं। वहीं दूसरे नंबर पर कांग्रेस हैं। बता दें कि इस बार कांग्रेस(Congress) को 70 सीटें चुनाव लड़ने के लिए मिली हैं।

Bihar Election 2020 : बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) को लेकर शनिवार को विपक्षी दलों के महागठबंधन द्वारा आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में जमकर हंगामा हुआ।

Bihar Assembly Election 2020 : आखिरकार लंबी खींचतान के बाद बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के लिए विपक्षी महागठबंधन में सीटों के बंटवारे पर फैसला हो ही गया। इसके मुताबिक, राष्ट्रीय जनता दल (RJD) 144 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वहीं, कांग्रेस (Congress) 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, जबकि लेफ्ट पार्टियां 29 सीटों पर लड़ेंगी।

हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा(HAM) के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि नीतीश कुमार(Nitish Kumar) के नेतृत्व में बिहार(Bihar) में विकास की बयार बह रही है और एनडीए अच्छा काम कर रहा है।

महागठबंधन में शामिल दल एक-दूसरे सहयोगी दलों को ही आईना दिखा रहे हैं। एक तरफ हिंदुस्तान अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने जहां विधानसभा चुनाव में राज्य की सभी सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर महागठबंधन छोड़ने के संकेत दे दिए हैं

लोकसभा चुनाव में हार के बाद पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पर राजद की समीक्षा बैठक हुई थी, जिसमें यह तय हुआ है कि तेजस्वी नेता बने रहेंगे। उल्लेखनीय है कि हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद गुरुवार को समीक्षा बैठक कर रही है। 

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरो़ड़ा से मुलाकात के दौरान चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि, अगर ईवीएम को लेकर बार बार शिकायत की जा रही है तो चुनाव आयोग ने कार्रवाई क्यों नहीं की।

रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बुरी तरह हार देखकर सपा-बसपा सहित ये तमाम महामिलावटी आज पूरी तरह से पस्त है। पीएम मोदी ने कहा कि कोई 8 सीट, कोई 10 सीट, कोई 20-22 और कोई 35 सीट वाला प्रधानमंत्री बनने के सपने देखने लगा। लेकिन देश ने कह दिया है कि फिर एक बार फिर से मोदी सरकार।

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव चाहते हैं कि इस चुनाव में पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव देश के प्रधानमंत्री बनें। इस बात का उन्होंने संकेत भी दिया है।