Maharashtra Election

महाराष्ट्र के नतीजे आने के बाद से ही बीजेपी पर लगातार हमले कर रही शिवसेना के तेवर अब नरम पड़ गए हैं। बीजेपी ने सरकार को लेकर सख्त रवैया अख्तियार करते हुए अपने दम पर सरकार बनाने की चेतावनी दी।

ऐसे में हमें लगता है कि सच्चाई की परिभाषा बदल गई है। संजय राउत ने कहा कि मुख्यमंत्री ने इससे पहले 50-50 फॉर्मूले की बात की थी। अब अगर सीएम कहते हैं कि 50-50 फॉर्मूला के बारे में कोई बातचीत नहीं हुई है, तो ऐसे में बातचीत का कोई आधार नहीं है।

महाराष्ट्र में सरकार बनाने की कवायद भाजपा और शिवसेना दोनों में काफी तेज है। लेकिन जहां एक तरफ शिवसेना 50-50 फॉर्मूले पर अटकी पड़ी है तो वहीं भाजपा ने भी साफ कर दिया है कि, चुनाव से पहले ऐसा कोई करार नहीं हुआ था।

काकड़े ने दावा किया है कि, शिवसेना के 56 में से 45 विधायक भाजपा को सपोर्ट करने का मन बना चुके हैं और वो अलग पार्टी बनाकर भाजपा सरकार को समर्थन दे सकते हैं। उन्होंने ये भी कहा कि, विधायक भाजपा को फोन कर अपना समर्थन देने की बात कर रहे हैं।

महाराष्ट्र के चुनाव नतीजे आने के पांच दिन बाद भी शिवसेना के साथ सरकार बनाने को लेकर जारी खींचतान के बीच भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव ने अहम बयान दिया है।

शिवसेना ने अपने विधायक दल के बैठक में ये साफ कर दिया है कि वो 50-50 फॉर्मूले से कम में नहीं मानने वाली है।  इसके साथ ही इस बार शिवसेना ने सीएम पद को लेकर लिखित आश्वासन मांगा है।

ईवीएम के तकनीकी पक्षों के जानकार एक शख्स ने बताया, 'चुनाव नतीजों के लिए ईवीएम से छेड़छाड़ का दावा करनेवाले लोग कर्नाटक, एमपी और राजस्थान में नतीजों के बाद भी चुप ही थे। हरियाणा और महाराष्ट्र के चुनाव नतीजों ने भी साबित कर दिया है कि ईवीएम को टैंपर करने की बात पूरी तरह से गलत है।'

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रदेश में 11 विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनाव में पार्टी का मत प्रतिशत बढ़ने पर खुशी जाहिर की है। इसके साथ ही उन्होंने गांगोह सीट के परिणाम में धांधली करने का भाजपा पर आरोप लगाया है।

एक्सिस माई इंडिया का एग्जिट पोल लगातार एक के बाद दूसरे इतिहास रचता जा रहा है। हरियाणा के चुनाव में इस पोल की धूम रही है। यह अकेला ऐसा एग्जिट पोल रहा जिसने हरियाणा के सटीक नतीजे बताए।

मुंबई के भाजपा कार्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का स्वागत किया। देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हम नरेंद्र मोदी, अमित शाह, जेपी नड्डा, उद्धव ठाकरे और सभी नेताओं का धन्यवाद करते हैं।