maharashtra government

Maharashtra Government: महाराष्ट्र में बाढ़ से बने हालातों को लेकर राज्य सरकार में सहभागी शरद पवार(Sharad Pawar) ने कहा था, "केन्द्र सरकार को किसानों की मदद करनी चाहिए और उसके लिए मैं अन्य सांसदों के साथ प्रधानमंत्री(PM Modi) से भेंट करूंगा।’’

Kangana vs Anurag :बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और महाराष्ट्र सरकार (Goverment of Maharashtra) के बीच तकरार जारी है। इसी बीच उनकी और फिल्म डायरेक्टर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) की ट्विटर पर तीखी बहस (Twitter War) हो गई।

बॉलीवुड (Bollywood) अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) के बीच जुबानी जंग जारी हैं।

महाराष्ट्र सरकार और बॉलीवुड (Bollywood) अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के बीच तकरार लगातार बढ़ता ही जा रहा है। कंगना ने ट्विटर के जरिए अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) और उनके बेटे आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) को निशाने पर लिया है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (CM Uddhav thackeray) को अयोध्या के संतों की चेतावनी दी है। दरअसल महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) की कार्यप्रणाली से नाराज अयोध्या (Ayodhya) के संतों ने उद्धव ठाकरे के विरोध में बिगुल फूंक दिया है।

महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने 16 अप्रैल को हुई पालघर लिंचिंग मामले ( Palghar Lynching Case) में कड़ा रुख अपनाते हुए गिरफ्तार सिपाही को बर्खास्त करने के साथ दो अन्य को अनिवार्य रूप से सेवानिवृत्त कर दिया है।

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) को सीबीआई (CBI) को सौंपने के सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले के बाद महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) चौतरफा घिरी है।

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) केस दिनों दिन उलझता जा रहा है। एक तरफ महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) और पुलिस सुशांत की मौत को आत्महत्या साबित करने में लगी हुई है।

सुशांत सिंह के पिता के के सिंह ने भी रिया चक्रवर्ती की ट्रांसफर याचिका के जवाब में सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया है। इसमें के के सिंह ने कहा है कि रिया ने सुशांत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी पर दबाव बनाया था।

कुछ दिनों पहले अम्फान तूफान ने तबाही मचाई और अब एक और तूफान का खतरा मुंबई पर मंडरा रहा है। बुधवार यानि तीन जून को महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में चक्रवात निसर्ग दस्तक दे सकता है।