Maharashtra Political Crisis

कांग्रेस मुंबई इकाई के पूर्व अध्यक्ष संजय निरूपम ने पार्टी कार्यकर्ताओं से प्रदेश में समय पूर्व चुनाव के लिए तैयार रहने के लिए कहा है। वहीं इससे पहले यहां कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना को समर्थन देने के मुद्दे पर बैठक की है, जिससे पार्टी के अंदर ही मतभेद उभर कर सामने आने लगे हैं।

शिवसेना सांसद संजय राउत ने यहां सोमवार को कहा कि शिवसेना ने केंद्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतात्रिंक गठबंधन (राजग) से अलग होने का फैसला किया है और पार्टी महाराष्ट्र में कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के समर्थन से सरकार बनाएगी।

महाराष्ट्र में जारी भाजपा और शिवसेना के बीच बढ़ी तल्खियां कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। आज भी शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने भाजपा पर हमला बोला, वहीं कांग्रेस और एनसीपी को लेकर उनके रुख में नरमी देखने को मिली।

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में जारी विवाद के बाद शिवसेना ने सोमवार को केंद्र में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) छोड़ने का फैसला किया है। इसके साथ ही शिवसेना नेता अरविंद सावंत ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफे का ऐलान कर दिया है।

इस बीच महाराष्ट्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल की अगुवाई में आज पार्टी नेताओं ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। इस प्रतिनिधिमंडल में चंद्रकांत पाटिल के अलावा अन्य नेता गिरीश महाजन, सुधीर मुनगंटीवार और आशीष शेलार थे।

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जारी सियासी घमासान पर केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने बड़ा बयान दिया है। नितिन गडकरी ने आखिरकार महाराष्ट्र में सरकार गठन और मुख्यमंत्री को लेकर चल रहे सस्पेंस से पर्दा उठाया है और अपनी चुप्पी भी तोड़ी।