migrant workers

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से बताया गया है कि पीएम मोदी 20 जून को 'गरीब कल्याण रोजगार अभियान' की शुरुआत करेंगे। इसकी कोशिश ग्रामीण भारत में जीविका के नए मौकों पर जोर देने की होगी।

मुंबई में लॉकडाउन में फंसे जिन प्रवासी श्रमिकों ने कभी एयरपोर्ट नहीं देखा था। वह यकीन नहीं कर पा रहे थे कि सुपर स्टार अमिताभ बच्चन के प्रयास से वह हवाई जहाज का सफर कर मात्र दो घंटे में मुंबई से लखनऊ पहुंच जाएंगे।

लॉकडाउन के बीच जहां कई बड़ी कंपनियां नुकसान झेल रही थीं। वहीं बिस्कुट बनाने वाली कंपनी पारले ने एक नया रिकॉर्ड बना लिया है।

116 जिलों को लेकर मोदी सरकार चाहती है कि जल्द ही में घोषित हुए आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत भी इन जिलों पर ध्यान केंद्रित करने के साथ ही बाकी केंद्रीय योजनाओं को भी सुचारु रूप से शुरू किया जाएगा।

केंद्र सरकार ने अपने हलफनामे में यह भी कहा है कि केंद्र, राज्य सरकारों, सभी फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं और पूरे देश ने इस अभूतपूर्व कोरोना महामारी से निपटने और जीवन के हर पहलू की देखभाल करने के लिए युद्धस्तर पर कार्य किया है।'

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कहा कि वह केंद्र और राज्य सरकारों को प्रवासी मजदूरों को उनके मूल स्थानों पर पहुंचाने के लिए 15 दिन का समय देने पर विचार कर रहा है।

सरकार के मुताबिक केंद्र की ओर से सभी राज्यों को लिखा गया है कि वे बतायें कि उन्हें अपने लोगों के लिए कितने ट्रेनों की जरूरत है? राज्य सरकारों की मांग के मुताबिक उन्हें 24 घंटे के भीतर ट्रेनें उपलब्ध कराई जा रही हैं। केंद्र ने बताया कि सबसे अधिक श्रमिक स्पेशल ट्रेन यूपी और बिहार गयी हैं।

मालूम हो कि दूसरे प्रदेशों से अब तक करीब 30 लाख से अधिक कामगार एवं श्रमिक अब तक वापस आ चुके हैं। इनमें से करीब 24 लाख के स्किल की मैपिंग हो चुकी है।

नोएडा की एक 12 साल की बच्ची ने झारखंड के रहने वाले एक श्रमिक परिवार अपने गुल्लक के पैसों से फ्लाइट के जरिए घर भेजा, और अब वह गुल्लक के बचे 17 हजार रुपये भी जरूरतमंदों पर खर्च कर देना चाहती है।

मायावती ने अपने अंतिम ट्वीट एमओयू साइन को लेकर लिखा है कि, अच्छा होता सरकार नया एमओयू करने व फोटो छपवाने से पहले यह बताती कि पिछले वर्षों में साइन किए गए इसी प्रकार के अनेकों एमओयू का क्या हुआ?