Modi Government

मायावती ने ट्वीट किया "कांग्रेस के बाद अब भाजपा व इनकी केंद्र सरकार के अनवरत उपेक्षित रवैये के कारण यहां सदियों से पछाड़े गए एससी, एसटी व ओबीसी वर्ग के शोषितों-पीड़ितों को आरक्षण के माध्यम से देश की मुख्यधारा में लाने का सकारात्मक संवैधानिक प्रयास फेल हो रहा है, जो अति गंभीर व दुर्भाग्यपूर्ण है।"

चीन में कोरोना वायरस का प्रकोप गहराने से दुनियाभर के बाजारों में मंदी का माहौल है, जिससे कृषि उत्पाद बाजार भी प्रभावित हुआ है।

डॉ. जितेंद्र सिंह केंद्र सरकार में पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास (डोनर) राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) व प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष मामलों के राज्यमंत्री हैं।

प्रियंका ने कहा, "यूपी सरकार भी आरक्षण नीति का मखौल उड़ाती है और यह भाजपा और आरएसएस का एक डिजाइन है। वे पहले एससी/एसटी कानून को कमजोर बनाते हैं और फिर वे संविधान में दिए गए समानता के सिद्धांत के खिलाफ जाते हैं।"

मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान देश के सौ शहरों को स्मार्ट सिटी बनाने की परियोजना सुर्खियों में रही है। लोकसभा में उठे एक सवाल के जवाब में केंद्र सरकार ने अब बताया है कि शहरों को चुने जाने की तारीख से पांच साल के भीतर उन्हें स्मार्ट सिटी बनाने की कोशिश है।

गठन के बाद राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट को दान मिलने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। मोदी सरकार ने नवगठित ट्रस्ट को मंदिर निर्माण शुरू करने के लिए नकद में एक रुपये दान किया। यह ट्रस्ट को मिला पहला दान बताया जा रहा है।

दिलचस्प बात यह है कि अधिकांश लोग सरकार के फैसले का समर्थन करते हैं, लेकिन फैसले की शुद्ध अनुमोदन रेटिंग 45.7 फीसदी रही। 50 से नीचे की स्वीकृति रेटिंग को नकारात्मक कहा जाता है।

अपने भाषण में वित्त मंत्री ने महिलाओं के लेकर भी बड़ी घोषणा करते हुए बताया कि "बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजनाओं को काफी समर्थन मिला, इस योजना के जरिए बाल अनुपात में बढ़ा अंतर देखने को मिला है।

गौरतलब है कि बीजेपी का मानना है कि पिछले साल अगस्त में अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद केंद्र शासित प्रदेश में विकास कार्यों को शुरू करने के संबंध में जमीनी स्थिति का आंकलन करने के लिए मंत्रियों की जम्मू कश्मीर की यात्रा अहम साबित होगी।

जहां देशभर में 26 जनवरी का दिन बड़े ही उत्साह और देशभक्ति की भावना से मनाया जाता है तो वहीं इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ ऐसा करने जा रहे हैं जो पहली बार होगा।