Modi Government

सरकार के अंदर बीते दिनों खींचतान की खबरें आने के बाद सियासी गलियारे में यह अटकलें लग रहीं थीं कि कहीं शरद पवार की पार्टी बीजेपी के साथ जाने का फैसला न कर लें।

पिछले कुछ हफ्तों में ऋण प्रदान किए जाने की दर में काफी उछाल आया है और सिर्फ पिछले छह दिनों में एक जुलाई तक मंजूरी 10,000 करोड़ रुपये तक बढ़ गई, जबकि संवितरण बढ़कर 7,000 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है।

पासवान ने कहा कि नियमों के विरुद्ध खाद्य तेल की खुली बिक्री होने की लगातार शिकायतें मिल रही हैं, जिससे मिलावट का खतरा है। इससे पहले मंत्रालय की ओर से राज्यों को लिखे पत्र में खाद्य तेल की खुली बिक्री पर रोक लगाने के निर्देश दिए गए थे।

मंत्रालय के प्रस्ताव में कहा गया है कि 'एनएचए के मजबूत आईटी प्लेटफॉर्म को सड़क यातायात दुर्घटनाओं के शिकार लोगों के लिए कैशलेस इलाज देने के लिए उपयोग किया जा सकता है।

भारत-चीन सीमा विवाद के बीच मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा को देखते हुए टिकटॉक समेत 59 चीनी एप पर बैन लगा दिया है। ऐसे में टिकटॉक स्टार मुस्कान शर्मा ने सरकार के इस फैसले का समर्थन किया है।

इसके साथ ही साइट पर अब मेक इन इंडिया का फिल्टर भी लगा दिया है। इससे खरीददार सिर्फ उन सामानों में से चुन सकेंगे जिसमें कम से कम 50 प्रतिशत सामान भारत का हो।

प्रियंका गांधी ने ट्वीटर पर एक वेबसाइट पर लिखी गयी खबर के लिंक को शेयर करते हुए लिखा, "एक तरफ सूबे के मुख्यमंत्री लाखों नौकरियां देने का दम भर रहे हैं तो दूसरी तरफ कानपुर के युवा दंपति ने लॉकडाउन में गई नौकरी के कारण भूख के कारण मौत को गले लगा लिया। सरकार को संकटकाल में प्रचार से ज्यादा लोगों की समस्याओं के समाधान पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।"

लद्दाख की गलवान घाटी में सोमवार को भारत-चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई। जिसको लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार पर सवाल उठा रहे हैं और निशाना साध रहे हैं। जिसके बाद अब केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी. किशन रेड्डी ने इस मुद्दे पर पलटवार किया और राहुल गांधी पर निशाना साधा है।

इस बातचीत में भारत ने दो टूक कहा है कि अप्रैल 2020 की स्थिति सीमा पर कायम हो। वार्ता के दौरान भारत ने चीनी सेना से पीछे हटने को भी कहा है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने ट्वीट किया, "सरकार लोगों को और एमएसएमई को नकद सहयोग देने से इनकार कर सक्रिय रूप से हमारी अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर रही है। यह नोटबंदी 2.0 है।"