narendra modi

भारत-पाक के बीच बातचीत बंद होने के नाते यह पहला मौका होगा जब इमरान खान और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी एक कार्यक्रम में साथ आ सकते हैं।

जेएनयू का विवाद अब और आगे बढ़ता नजर आ रहा है। देशभर से 208 उप-कुलपतियों और प्रॉफेसरों ने इस सिलसिले में पीएम को चिट्ठी लिखी है। इन सभी ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर आरोप लगाया है कि उनके कैंपस में वामपंथी विचारधारा के छात्रों की ओर से आये दिन समस्या खड़ी की जा रही है।

दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी अरविंद केजरीवाल पर मानहानि का दावा ठोकने जा रहे हैं। उन्होंने आम आदमी पार्टी के एक विज्ञापन में अपनी तस्वीरों और वीडियो के गलत इस्तेमाल के चलते यह फैसला लिया है।

पश्चिम बंगाल दौरे पर दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के 150 साल पूरे होने से जुड़े एक कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 जनवरी को पुनर्निर्मित और नवीनीकरण की गई कोलकता स्थित चार धरोहर इमारतों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। वह 11 और 12 जनवरी को दो दिवस की आधिकारिक यात्रा पर कोलकता जा रहे हैं।

भाजपा ने यह तय किया है कि पार्टी सकारात्मक तरीके से पूरे देश में इस कानून की सच्चाई जनता को बताएगी। इसी कड़ी में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं गृह मंत्री अमित शाह 12 जनवरी को जबलपुर आ रहे हैं।

भारतीय राजनीति में इस साल कुछ घटनाएं ऐसी हुईं, जिनका जब भी जिक्र होगा तो 2019 की याद हमेशा आएगी। 2020 का स्वागत करने के साथ ही इन घटनाओं को भी याद करना जरूरी होगा। साल 2019 में एनडीए गठबंधन को फिर से केंद्र की सत्ता मिल गई लेकिन भाजपा के कई दिग्गज नेताओं को खोने का दुःख भी इस साल पार्टी के हिस्से में आया। पार्टी को इससे बड़ा झटका लगा।

सूत्रों ने बताया कि सीएए और एनआरसी का विरोध, अनुच्छेद 370, अयोध्या पर फैसला, तीन तलाक जैसे मुद्दों के बहाने विवादित संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ने प्रदेश में अपनी पैठ बनाई।

राफेल विमान सौदे में भ्रष्टाचार, पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाक अधिकृत कश्मीर में एयर स्ट्राइक को लेकर सरकार को घेरने की कवायद के बीच 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ा गया और सारे दावों को धता बताते हुए मोदी 2.0 सरकार कहीं अधिक मजबूती के साथ केंद्र में आई।

साल 2019 में जब नरेंद्र मोदी सरकार प्रचंड बहुमत से आई तो उसके सामने सबसे बड़ी चुनौती देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के रूप में थी।