NCP Chief Sharad Pawar

Sharad Pawar writes to PM Modi : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) ने मंगलवार को कहा कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari ) की ओर से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखे अपने पत्र में जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल किया गया है, उससे वह हैरान हैं।

Maharashtra Politics: एक तरफ जहां संसद में सरकार और विपक्ष के बीच खींचतान जारी है। वहीं इस बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) चीफ और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार (Sharad Pawar) को आयकर विभाग का नोटिस पहुंचा है।

अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangna Ranaut) के बांद्रा स्थित ऑफिस पर बीएमसी (BMC) की कार्रवाई पर महाराष्ट्र सरकार में शामिल एनसीपी चीफ शरद पवार (NCP Chief Sharad Pawar) का बड़ा बयान सामने आया है।

शरद पवार ने आगे कहा, ''यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली, लेकिन इसकी इतनी चर्चा क्यों हो रही है? मुझे नहीं लगता कि यह इतना बड़ा मुद्दा है। एक किसान ने मुझे बताया कि 20 से अधिक किसानों ने आत्महत्या की है, किसी ने इस बारे में बात नहीं की।''

राउत ने अप्रत्यक्ष रूप से संभावित राजनीतिक संकट की ओर इशारा करते हुए कहा, "विपक्ष को अभी भी कोरोना के लिए टीका और उद्धव ठाकरे की सरकार को गिराने के लिए खुराक खोजना बाकी है लेकिन प्रयास जारी हैं।"

महाराष्ट्र में जारी सियासी गतिरोध के बीच एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने शिवसेना सांसद संजय राउत से मुलाकात की। मुलाकात के बाद एनसीपी चीफ ने कहा कि हम विपक्ष में बैठेंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार बनाने को लेकर शिवसेना से हमें कोई प्रस्ताव नहीं मिला है।

महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन को लेकर अभी तक पेंच उलझा हुआ है। एक ओर जहां भाजपा और शिवसेना में तकरार के कारण सीएम प्रत्याशी अभी तक फाइनल नहीं हुआ, वहीं दूसरी ओर 54 सीटें जीतने वाली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी पार्टी के समर्थन के लिए शिवसेना लगातार निगाह रखे हुए हैं।

शरद पवार ने कहा है कि हम संविधान का आदर करने वाले लोग हैं, इसलिए पुलिस और अन्य सरकारी एजेंसियों के साथ जांच में सहयोग करें। इसलिए किसी भी तरह का ऐसा कोई काम न करें, जिससे लोगों को दिक्कत हो।

लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले विपक्ष सारे हथकंडे अपना लेना चाहता है। एक ओर वीवीपैट को लेकर बवाल मचाया जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर नायडू पूरे विपक्ष को एकजुट करने में जुटे हैं। चूंकि 23 मई को नतीजे घोषित होने हैं, जिसमें महज दो दिन बचे हैं। लगभग सभी एग्जिट पोल में बीजेपी के अगुवाई वाले एनडीए को बहुमत मिलने की बात कही जा रही है।

नई दिल्ली। एनसीपी अध्यक्ष साल 2019 में होनेवाले लोकसभा चुनाव में नहीं खड़े हो सकते हैं। मुंबई में पवार की...