NCP

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात से पहले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार ने सोमवार को महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ गठबंधन को लेकर यू-टर्न ले लिया और कहा कि भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) और शिवसेना ने साथ चुनाव लड़ा था और उन्हें अपना रास्ता चुनना है।

कांग्रेस सूत्रों के अनुसार, बैठक सोनिया गांधी के आवास पर होगी, जिसमें महाराष्ट्र में मंगलवार को राष्ट्रपति शासन लागू किए जाने पर केंद्रित वार्ता होने की संभावना है।

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने के बाद सरकार गठन को लेकर सियासी ड्रामा जारी है। सूत्रों के मुताबिक सरकार गठन की कोशिशों के बीच शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी का प्रतिनिधिमंडल शनिवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात करने वाला है।

महाराष्ट्र में सरकार गठन का रास्ता अब सुलझते दिख रहे हैं। शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने की तरफ बढ़ रही है। विधानसभा चुनाव परिणाम आने के 22 दिन बाद भी राज्य में सरकार का गठन नहीं हो पाया है।

महाराष्ट्र में सरकार बनने का रास्ता साफ हो गया है। सूत्रों के मुताबिक लंबी कवायद के बाद शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के बीच सरकार बनाने को लेकर समझौता हो गया है। समझौते के तहत शिवसेना को पूरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री पद मिलेगा। वहीं कांग्रेस और एनसीपी के खाते में एक-एक उपमुख्यमंत्री पद आएगा।

कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना की बैठक के बाद गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी की कोर कमेटी की बैठक हुई, इस बैठक में हिस्सा लेने के बाद जब भाजपा नेता आशीष शेल्लार बाहर आए तो उन्होंने मीडिया से सिर्फ इतना कहा, '..जय श्री राम, हो गया काम'।

शिवसेना के सांसद संजय राउत ने गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी से कहा कि वह उन्हें डराने या धमकाने की कोशिश न करें और शिवसेना को अपना राजनीतिक रास्ता चुनने दें। राउत ने मीडिया में कहा, "हम लड़ने और मरने के लिए तैयार हैं, लेकिन धमकी या जबरदस्ती की रणनीति को बर्दाश्त नहीं करेंगे।"

एक पूर्व शिवसैनिक ने उद्धाव ठाकरे से मांग की है कि, वो कांग्रेस-एनसीपी के साथ मिलकर सरकार ना बनाएं। इस मांग को लेकर शख्स मोबाइल टॉवर के ऊपर चढ़ गया।

महाराष्ट्र में जारी सियासी संग्राम अब सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच चुका है। शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन सरकार बनने से पहले ही राज्य में राष्ट्रपति शासन लग गया है। राज्यपाल की सिफारिश को मंगलवार शाम को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति शासन को मंजूरी दी।

महाराष्ट्र में राज्यपाल ने भाजपा-शिवसेना के बाद अब एनसीपी से पूछा है कि क्या उनकी पार्टी सरकार बनाने को तैयार है। सबसे पहले बड़ी पार्टी भाजपा और फिर दूसरी बड़ी पार्टी शिवसेना को इस बारे में पूछा गया था लेकिन भाजपा ने सरकार बनाने से साफ इनकार कर दिया।