NCP

महाराष्ट्र में चुनाव सर पर हैं। राजनीतिक दल चुनाव की तैयारियों में लगे हुए हैं। मगर इस बीच एनसीपी के मुखिया शरद पवार ने एक बेहद विवादास्पद बयान दे दिया है।

महाराष्‍ट्र चुनाव से पहले एनसीपी को लगा ये बड़ा झटका

उन्होंने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व से प्रेरित हैं। इससे पहले शनिवार को, भोंसले ने पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला से मुलाकात की और निचले सदन से अपना इस्तीफा सौंप दिया।

शिवाजी महाराज के वंशज उदयनराजे भोसले बीजेपी ज्वाइन करने जा रहे हैं। चुनाव से पहले बीजेपी के लिए यह हौसला बढ़ाने वाली बात है। शिवाजी महाराज के सातवें वंशज और सतारा से एमपी भोंसले का बीजेपी के साथ आना वोटरों को खासा प्रभावित कर सकता है।

मध्य रेलवे के वरिष्ठ सुरक्षा आयुक्त व आरपीएफ मुंबई मंडल के.के. अशरफ ने कहा कि आरपीएफ ने इस घटना पर बहुत गंभीरता से संज्ञान लिया है और आरोपी पर 'कानून की सभी संबंधित धाराएं' लगाई गई हैं।

बता दें कि यदि चुनाव आयोग इन पार्टियों का राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा समाप्त करता है तो फिर देश में सिर्फ भाजपा, कांग्रेस, नेशनल पीपल्स पार्टी, सीपीएम और बसपा ही राष्ट्रीय पार्टियां रह जाएंगी।

तीसरी बार लोकसभा में पेश किया गया तीन तलाक बिल एक बार फिर से पास हो गया है। कांग्रेस समेत डीएमके, एनसीपी और कई विपक्षी पार्टियों ने इस बिल का विरोध जरुर किया। लेकिन फिर भी इस बिल को पास कर दिया गया।

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'गोवा और कश्मीर को देखने के बाद, मुझे लगता है कि अगर हम एक ही पार्टी के रूप में भाजपा के साथ रह गए तो देश का लोकतंत्र कमजोर हो जाएगा।'

शरद पवार ने कहा है कि कार्यकर्ताओं को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के स्वयंसेवकों से सीखना चाहिए कि लोगों के संपर्क में कैसे रहा जाए। आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए शरद पवार ने कार्यकर्ताओं से यह भी कहा कि वे लोगों के घर-घर जाकर लोगों से मिलें।

पार्टी से लंबे समय से नाराज चल रहे बीड के विधायक क्षीरसागर के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से बातचीत करने की खबरें आ रही थीं, लेकिन बुधवार तड़के उन्होंने आखिरकार शरद पवार की  एनसीपी छोड़ शिवसेना में शामिल होने का संकेत दे दिया। शिवसेना प्रदेश सरकार में सहयोगी पार्टी है।