nitin gadkari

कोरोना से लड़ने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी हर स्तर पर प्रयास कर रहे हैं। उनका यह प्रयास रंग लाता दिखाई दे रहा है। पूरा देश लॉकडाउन में है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इससे आपात सेवाओं के काम में लगे लोगों को मदद मिलेगी। मंत्री ने कहा कि सड़कों का प्रबंधन और टोल प्लाजा पर आपात संसाधन की मौजूदगी पहले की तरह ही रहेगी।

दिल्ली के प्रगति मैदान में 14 से 27 नवम्बर तक चलने वाले अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में बिहार मंडप इस बार फोकस राज्य है एवं बिहार मंडप को इस बार आई.टी.पी.ओ. द्वारा इस वर्ष मेले की थीम 'इज ऑफ डुइंग बिजनेस' के अनुरुप नायाब रूप दिया गया है।

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जारी सियासी घमासान पर केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने बड़ा बयान दिया है। नितिन गडकरी ने आखिरकार महाराष्ट्र में सरकार गठन और मुख्यमंत्री को लेकर चल रहे सस्पेंस से पर्दा उठाया है और अपनी चुप्पी भी तोड़ी।

किशोर तिवारी ने मामले को सुलझाने के लिए केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी को भेजने की मांग की। किशोर तिवारी ने कहा कि नितिन गडकरी दो घंटे में स्थिति का समाधान कर सकते हैं।

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार दीपावली के दिन ही भगवान श्री राम बुराई के प्रतीक रावण का वध करने के बाद 14 वर्षों का वनवास समाप्त कर अयोध्या लौटे थे और अयोध्यावासियों का हृदय अपने परम प्रिय राजा के आगमन से प्रफुल्लित हो उठा था।

राज्य भर के मतदाताओं को मतदान केंद्रों पर सुबह 7 बजे मतदान शुरू होने से पहले ही पहुंचते देखा गया। शुरूआती मतदाताओं में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत शामिल रहे जिन्होंने नागपुर में एक मतदान केंद्र पर मतदान किया।

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने इसके लिए ज़रूरी निर्देश जारी कर दिए है। गडकरी ने ऐसे ठेकेदारों की पहचान करने को कहा है।

गडकरी ने कहा कि कभी खुशी होती है, कभी गम होता है। कभी आप सफल होते हैं और कभी आप असफल होते हैं। यही जीवन चक्र है, जीवन का हिस्सा है। गडकरी के इस बयान से एक दिन पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए कई कदम उठाए।

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने दिल्ली सरकार के इस फैसले को गैरजरूरी बताया है। नितिन गडकरी ने कहा है कि राजधानी में अब इसकी जरुरत नहीं है।