NOTA

झारखंड में पहली बार चुनाव लड़ने उतरी आम आदमी पार्टी की हालत बेहद खराब साबित हुई है। पार्टी बुरी तरह हारी है। उसके उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो हो गई है।

नोटा के मामले में तीसरे नंबर पर समस्तीपुर लोकसभा क्षेत्र रहा जहां 35,417 मतदाताओं को किसी दल के प्रत्याशी पसंद नहीं आए और विकल्प के रूप में उन्होंने नोटा का विकल्प चुना।

फ्लैट्स मिलने में देरी को लेकर परेशान नोएडा और ग्रेटर नोएडा के खरीददारों ने रविवार को एक अलग सी मुहिम शुरू की है।

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने आज राज्यसभा चुनावों को लेकर एक बड़ा फैसला सुनाया है। अब से राज्यसभा चुनाव में...