OM Birla

कोरोना वायरस की चुनौती के बीच जनता की मदद के लिए लोकसभा स्पीकर ओम बिरला की पहल पर स्थापित कंट्रोल रूम 11 हजार लोगों को मदद पहुंचाने में सफल रहा है।

लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला इस बात को संसद में कह चुके थे कि संसद में किसी भी तरह की अनियमितता की कोशिश को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

राजस्थान के कोटा में 48 घंटे में 10 बच्चे की मौत और साल भर में हजार से ज्यादा बच्चों की मौत पर भी सब कुछ सामान्य नजर आ रहा है।

जानिए लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने किसे कहा कि 'दादा आज इतने जोश में क्यों...'

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने शुुक्रवार को दिल्ली में लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से मुलाकात की।

सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और कई वरिष्ठ विपक्षी नेताओं ने भाग लिया। बैठक में केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और राज्यसभा में विपक्ष के उप नेता आनंद शर्मा भी मौजूद थे।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने एक सभा के दौरान ब्राह्मणों को श्रेष्ठ बताते हुए कहा कि, उन्हें यह स्थान त्याग और तपस्या की वजह से मिला है। अब ओम बिड़ला के बयान को लेकर कांग्रेस पार्टी सवाल खड़े कर रही है।

NAREDCO के इस कार्यक्रम में रियल स्टेट और फाइनेंस से जुड़े नामचीन व्यक्तियों ने भाग लिया, जिन्होंने इस क्षेत्र की मजबूती, तेज विकास और देश के विकास में भागीदार निभाने के लिए सुझाव पेश किये।

उन्होंने सदस्यों से डिजिटल तकनीकी अपनाने की बात कही। शून्य काल के दौरान इस मुद्दे को उठाते हुए लोकसभा अध्यक्ष ने सांसदों से कहा कि प्रक्रिया को 'वैकल्पिक आधार' पर अगले सत्र से शुरू किया जाएगा।

विश्व की प्राचीनतम भाषा संस्कृत जल्द ही लोकसभा में गूंजती सुनाई देगी। मोदी सरकार ने भारत का गौरव रही इस भाषा को जन-जन तक पहुंचाने के प्रयास तेज कर दिए हैं।