Opposition of Farmers

Farmers Protest: सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) का किसान प्रेम दूसरी बार एक महीने में सामने आया। इससे पहले केजरीवाल 8 दिसंबर को सिंघु बॉर्डर पहुंचे थे। उससे पहले कृषि बिल के पास होते ही सीएम केजरीवाल ने इस कानून को लेकर एक नोटिफिकेशन जारी कर इसे दिल्ली में लागू कर दिया था। लेकिन जैसे ही कृषि कानून के खिलाफ किसानों का आंदोलन तेज हुए केजरीवाल को बी अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकने का मौका मिल गया।

Farmers Law: कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) से मिलने किसानों का एक और दल पहुंचा था। जिसके बारे में खुद नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि ये किसान संगठन के नेता किसी भी हाल में कृषि कानूनों (agricultural law) में किसी तरह का संशोधन नहीं चाहते हैं। इनके अनुसार इन कृषि कानूनों में संशोधन से किसानों का नुकसान होगा। वह जस-के-तस इन कृषि कानूनों को अंगीकार करना चाहते हैं।

Farmers Protest: केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने यह चिट्ठी किसानों के नाम संबोधन में लिखी है। इस पत्र में नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान भाईयों को संबोधित करते हुए लिखा है। सभी किसान भाइयों और बहनों से मेरा आग्रह ! "सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास" के मंत्र पर चलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हमारी सरकार ने बिना भेदभाव सभी का हित करने का प्रयास किया है। विगत 6 वर्षों का इतिहास इसका साक्षी है।