OSD

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया मुश्किल में हैं। पहले सीबीआई ने उनके ओएसडी को रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए पकड़ा। अब दिल्ली की एक कोर्ट ने उनकी ओर से किए गए बस जलाने के विवादित दावे को लेकर पुलिस से रिपोर्ट मांगी है।

मनीष सिसोदिया के ओएसडी को लेकर कई चौकाने वाली जानकारी सामने आ रही है। सीबीआई के छापे में रंगे हाथों पकड़ा गया सिसोदिया का ओएसडी ट्रांसपोर्टरों के साथ टैक्स चोरी की सेटिंग कर रहा था। इसी सिलसिले में इतनी मोटी रकम उसने पकड़ी थी।

जिन लोगों पर छापेमारी की गई, उनमें कमलनाथ के पूर्व ओएसडी प्रवीण कक्कड़, पूर्व सलाहकार राजेंद्र मिगलानी और उनके रिश्तेदार की कंपनी मोजर बेयर तथा उनके भांजे रातुल पुरी की कंपनी से जुड़े अधिकारी शामिल हैं। 

भोपाल। मध्य प्रदेश में प्रशासनिक फेरबदल का दौर जारी है। राज्य पुलिस सेवा के पूर्व अधिकारी म कक्कड़ को मुख्यमंत्री...