Pakistan

शोएब अख्तर ने कोरोनावायरस से प्रभावितों की मदद के लिए धन जुटाने हेतु एक प्रस्ताव रखा है। उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज कराई जानी चाहिए जिससे काफी पैसा एकत्रित हो सकता है जो इस महामारी के समय में पीड़ितों के काम आएगा।

कोरोना को लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने खुद ही संकेतों में कहा है कि उनके देश के सामने एक तरफ कुआं और दूसरी तरफ खाई वाली स्थिति पैदा हो गई है।

प्रधानमंत्री इमरान खान को जिस बात का अंदेशा था, वही पाकिस्तान में होता दिख रहा है। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन में रोजाना कमाकर खाने वाली बड़ी आबादी के सामने भुखमरी का संकट आ खड़ा हुआ है।

अख्तर ने इससे पहले, इस बीमारी के खिलाफ लोगों को जाति धर्म से ऊपर उठकर लोगों की मदद करने का अनुरोध किया था। अख्तर ने अपने यूटयूब चैनल पर एक वीडियो पोस्ट किया था, जिसमें उन्होंने लोगों से अनुरोध किया था कि वे एक वैश्विक कार्यबल के रूप में काम करें और प्रशासन द्वारा जारी दिशा निर्दशों का पालन करें।

पाकिस्तान की सरकार ने दावा किया है कि देश में कोरोनावायरस संक्रमण के 27 प्रतिशत मामले स्थानीय ट्रांसमिशन के चलते फैले हैं। एक शीर्ष अधिकारी ने यहां इस बात की जानकारी दी।

पाकिस्तान में कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच इसके स्थानीय संक्रमण के कारण पहली मौत होने ने चिंता को काफी बढ़ा दिया है। इस बीच, देश में कोरोना वायरस से ग्रस्त रोगियों की संख्या हजार को पार कर गई है। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया है कि देश में बुधवार अपरान्ह तक कोरोना वायरस के कुल 1039 मरीज सामने आए हैं

पाकिस्तान बर्बादी की कगार पर है। कोरोना के बड़े संक्रमण का खतरा पाकिस्तान में बढ़ता ही जा रहा है। पाकिस्‍तान में इमरान सरकार के लॉकडाउन करने से इनकार करने ने इस समस्या को और बढ़ा दिया है।

पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर ने कोरोनावायरस से निपटने के लिए अपने देश के लोगों की लापरवाही को लेकर उन्हें जमकर लताड़ लगाई है। उन्होंने लोगों द्वारा सरकार के निर्देशों का पालन नहीं करने के कारण अब पूरे देश में लॉकडाउन की मांग की है।

प्रधानमंत्री ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "मैं अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से ईरान पर लगे प्रतिबंधों को हटाने के लिए जोर देकर आग्रह करता हूं।" उन्होंने कहा, "यह बहुत अन्यायपूर्ण है कि वे एक तरफ इतने बड़े प्रकोप कोरोनावायरस से निपट रहे हैं,

कॉमनवेल्थ जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन (सीजेए) ने पाकिस्तान के जंग जियो मीडिया ग्रुप के प्रधान संपादक मीर शकील-उर-रहमान की गिरफ्तारी की निंदा की है और सरकार से उन्हें रिहा करने के लिए कहा है।