Parliament

न्यूजीलैंड पैसिफिक रिंग ऑफ फायर पर स्थित है और कभी-कभी आने वाले भूकंम्पों के कारण इसे शैकी आइल्स कहा जाता है।

उन्होंने सांसदों से अपने क्षेत्र में जाकर लोगों को कोरोनावायरस से जागरूक करने को कहा है। पीएम मोदी ने आज कुछ सांसदों द्वारा सत्र को रोकने के लिए लिखे पत्र पर निराशा व्यक्त की और कहा कि हम देश के 130 करोड़ लोगों के प्रतिनिधि हैं।

लोकसभा से कांग्रेस के सात सांसदों के निलंबन का मामला दिन पे दिन तूल पकड़ता जा रहा है। लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने शुक्रवार को अपनी पार्टी के इन सांसदों को वापस लिए जाने की मांग करते हुए एक ऐसा बयान दे दिया जिसकी अब आलोचना की जा रही है।

संसद के बजट सत्र का दूसरा भाग आज से शुरू हो रहा है। सत्र ऐसे समय में शुरू हो रहा है जब दिल्ली में हिंसा हुई है। हालांकि, दिल्ली में स्थिति तो सामान्य होने लगी है, लेकिन संसद सत्र को लेकर राजनीति गरमाने लगी है।

बता दें कि मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान 1 जुलाई 2017 से जीएसटी लागू किया गया था। इसका मकसद पूरे देश के टैक्स सिस्टम में एकरूपता लाना है। इससे पहले तक प्रत्येक राज्य में अलग-अलग टैक्स स्लैब लागू था। अब पूरे देश में चार टैक्स स्लैब ही लागू हैं।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर और वित्त मंत्रालय की टीम ने बजट पेश करने से पहले फोटो ऑप कराया। अब यहां से निर्मला सीतारमण राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना होंगी, जहां बजट की मंजूरी ली जाएगी।

बजट सत्र की शुरुआत में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए व्याख्यान से संकेत मिला है कि आगामी बजट भारत के लिए एक नए दशक की शुरुआत और एक नए भारत का निर्माण करने के लिए तैयार किया जा सकता है।

इससे पहले देश की अर्थव्यवस्था में सुधार की उम्मीदों के साथ आर्थिक सर्वेक्षण में वित्त वर्ष 2020-21 में जीडीपी विकास दर 6 से 6.5 फीसदी रहने की संभावना जताई गई है। इस बजट के विकास केंद्रित रहने की उम्मीद है।

साल 2020 के पहले संसद सत्र की शुरुआत के साथ ही संसद तालियों से गूंज उठी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने अभिभाषण में नागरिकता कानून के बारे में जैसे ही चर्चा की, सांसद करीब दो मिनट तक मेज थपथपाते रहे।

जम्मू कश्मीर में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर मोदी सरकार की योजना शीशे की तरह साफ है। सरकार इस कानून को जम्मू-कश्मीर में भी लागू करने जा रही है।