patiala house court

निर्भया के दोषी मौत के मुंह में पहुंच चुके हैं। मगर पैंतरे चलने से बाज नहीं आ रहे हैं। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट उनका अंतिम डेथ वारंट जारी कर चुकी है।

तीन बार फांसी की सजा से बचने के बाद अब निर्भया के दोषियों के पास बचाव का की भी विकल्प मौजूद नहीं है। जिसको देखते हुए दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट दोषियों के लिए नया डेथ वारंट जारी कर दिया है।

तीन बार सजा टलने के बाद एक बार फिर निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाने का रास्ता साफ नजर आ रहा है। निर्भया मामले में दोषी पवन की दया याचिका को राष्ट्रपति ने ख़ारिज कर दिया। जिसके बाद निर्भया के दोषियों की फांसी की तारीख और समय कल यानि गुरुवार (5 मार्च) को तय हो जाएगा।

निर्भया केस के दरिंदों की फांसी एक बार फिर टल गई है। बता दें, कल सुबह 6 बजे इनकी फांसी होनी थी लेकिन अब पटियाला हाउस कोर्ट ने अगले आदेश तक फांसी पर रोक लगाई।

निर्भया के दोषियों की डेथ वारंट पर रोक लगाए जाने की मांग करने वाली याचिका को पटियाला हाउस कोर्ट ने सोमवार को खारिज कर दिया। इस बीच, सुप्रीम कोर्ट से क्यूरेटिव पिटिशन खारिज होने के बाद दोषी पवन कुत्ता ने राष्ट्रपति के पास दया याचिका दाखिल की है।  

निर्भया गैंगरेप मामले के दोषी विनय ने दीवार पर सिर मारकर खुद को घायल कर लिया। इसमें उसे मामूली चोटें भी आई हैं। तिहाड़ जेल प्रबंधन ने इस घटना की पुष्टि की है। घटना 16 फरवरी की बताई जा रही है।

निर्भया केस में दिल्ली हाईकोर्ट के सामने केंद्र सरकार ने दोषियों को अलग-अलग फांसी देने की अर्जी लगाई थी। जिसको लेकर फैसला सुरक्षित रख लिया गया था।

जानकारी यह भी मिली है कि शरजील इमाम देश छोड़कर भागने की तैयारी में था। पुलिस का शिकंजा कसने के बाद वह बिहार में अपने घर के पास स्थित एक इमामबाड़े में जाकर छिप गया था। उसे कई राज्यों की पुलिस देश के अलग-अलग हिस्सों में तलाश रही थी। सुराग मिलते ही दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की एक टीम ने उसे उसके घर के पास वाले इमामबाड़े से दबोच लिया।

1 फरवरी को निर्भया गैंगरेप केस के चारों आरोपियों को सुबह 6 बजे फांसी पर लटकाया जाएगा। जिसको लेकर तिहाड़ जेल प्रशासन ने दोषियों के परिजनों को लिखित में फांसी की सूचना दी है। तिहाड़ प्रशासन की तरफ से पत्र में लिखा गया है कि दोषियों को 1 फरवरी की सुबह 6 बजे फांसी पर लटकाया जाएगा।

निर्भया के चारों दोषियों की फांसी का दिन आखिरकार तय हो गया। अब इन्हें 1 फरवरी को सुबह 6 बजे फांसी दी जाएगी। बता दें, पहले 22 जनवरी को फांसी का ऐलान किया गया था।